Mamata Banerjee की फिर बढ़ी मुसीबत, मुस्लिम मतदाताओं से वोट मांगने पर मिला नोटिस

कोलकाता: तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के सामने एक बड़ी मुसबित खड़ी हो गई है। चुनाव आयोग (EC) ने ममता को चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में नोटिस भेजा है। मुख्यमंत्री को मुस्लिम मतदाताओं से वोट मांगना महंगा पड़ गया है। ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने हुगली में मुस्लिम मतदाताओं से अपने वोट को न बंटने देने की अपील की थी इस मामले में चुनाव आयोग ने नोटिस जारी किया है। आयोग का कहना है कि उन्होंने आचार संहिता के नियमों का उल्लंघन किया इसलिए उन्हें नोटिस भेजकर 48 घंटे के अंदर जवाब देने को कहा गया है।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी के नेतृत्व में भाजपा के प्रतिनिधि मंडल ने चुनाव आयोग से ममता बनर्जी के बयान की शिकायत की थी साथ ही चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले कार्रवाई की मांग की थी। आपको बता दें कि ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से उम्मीदवार हैं। उन्होंने बीते 3 अप्रैल को हुगली में मुस्लिम मतदाताओं को लेकर बड़ा बयान दिया था। ममता ने मुस्लिम मतदाताओं से अपने वोट को न बंटने देने की अपील की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ममता बनर्जी के बयान पर बंगाल में चुनावी रैली के दौरान चुनावी टिप्पणी की थी।

ये भी पढ़ें : बर्थडे के तोहफे के रूप में डायरेक्टर्स ने किया अल्लू अर्जुन की इस film का ट्रेलर लांच

ममता के आरोप निकले गलत

पश्चिम बंगाल में इस विधानसभा चुनाव में चुनावी महासंग्राम छिड़ा हुआ है। नंदीग्राम में वोटिंग वाले दिन मतदाताओं को धमकाने के मामले ममता के आरोपों को गलत पाया था और चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री की तरफ से ऐसे गलत आरोपों को लेकर खेद प्रकट किया था। चुनाव आयोग ने अपने पत्र में यह भी कहा था कि आयोग इस मामले की जांच कर रहा है कि क्या इन आरोपों पर चुनाव आचार संहिता के तहत कार्रवाई हो सकती है कि नहीं।

ये भी पढ़ें : UP Board की परीक्षाओं के समय में हुआ बदलाव, देखें 10वीं व 12वीं परीक्षा का नया टाइम टेबल

Related Articles