ममता बनर्जी हुई हादसे का शिकार, स्ट्रेचर पर पहुंचीं अस्पताल, जानें पूरा मामला

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) हादसे का शिकार हो गई। यहां की हाई-प्रोफाइल सीट नंदीग्राम में बुधवार को नामांकन करने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) चुनाव प्रचार कर रही थी उस दौरान उनके साथ धक्का-मुक्की हुई जिसके बाद वे हादसे का शिकार हो गईं। इस दौरान उनके पैर में गंभीर चोट लग गई है। इसके बाद उन्होंने नंदीग्राम से कोलकाता के बीच ग्रीन कॉरिडोर बनाकर SSKM अस्पताल ले जाया गया। ममता बनर्जी को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया और डॉक्टर उनकी चोट का इलाज कर रहे है।

सुरक्षा में सेंध पर उठे सवाल

पता हो कि कल ही डीजपी वीरेंद्र का तबादला किया गया है और इनकी जगह 1987 बैच के वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी पी नीरज नयन को नया डीजीपी नियुक्त किया है। वहीं आज चुनाव के नामांकन के बाद ममता बनर्जी चुनाव प्रचार कर रही थी और इस बीच धक्का-मुक्की में घायल हो गई। इस तरह की चुकी एक तरह से पुलिस के लिए लापरवाही और सुरक्षा में सेंध पर सवाल उठा रहा है।

ये भी पढ़ें : महाशिवरात्रि पर चार पहर की विशेष पूजा की जानें विधि, आचार्य स्वामी विवेकानन्द के बताये मंत्र से दूर होगी तकलीफ

ममता बनर्जी ने लगाया आरोप

ममता बनर्जी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि चुनाव प्रचार के दौरान नंदीग्राम में कुछ लोगों ने जान बूझकर उनके साथ धक्का-मुक्की की है। इस दौरान उनके पैर में चोट लग गई। नंदीग्राम में हुए इस घटना को गंभीरता से लेते हुए चुनाव आयोग ने विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। इधर, बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने ही ममता बनर्जी के इन आरोपों पर सवाल खड़े किए। उनके इलाज के लिए पांच सदस्यीय मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है। इसमें सर्जरी, आर्थोपेडिक्स, एंडोक्रिनोलॉजिस्ट, मेडिसिन और कार्डियोलॉजी विभागों के प्रमुख शामिल हैं।

ये भी पढ़ें : तो इस वजह से Salman Khan और Aishwarya Rai के बीच आ गई थी रार, बन गए थे पूरी तरह से गंवार !

Related Articles