ममता सरकार ने बजट 2021 को बताया फर्जी, कहा- इसकी थीम है ‘सेल इंडिया’

कोलकाता: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को लोकसभा में 2021-22 के लिए आम बजट (Budget) पेश किया जिसके बाद पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा। ममता ने कहा केंद्र का यह बजट (Budget) शत-प्रतिशत ‘दूरदर्शिता रहित’ है जिसकी थीम ‘सेल इंडिया’ यानि भारत को बेचना है। ममता सरकार के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि भारत का पहला कागज रहित बजट शत-प्रतिशत दूरदर्शिता रहित बजट है। केंद्र सरकार सिर्फ बातें करती है।

इसके आगे उन्होंने कहा कि रेलवे बिक गया, हवाई अड्डे बिक गए, बंदरगाह बिक गए, बीमा कंपनियां बिक गईं, पीएसयू 23 बिक गए। तृणमूल कांग्रेस सांसद ने दावा किया कि बजट में आम आदमी और किसानों की अनदेखी की गई है। इस साल कोरोना महामारी से उभरे लोग इस बजट से कई उम्मीद लगाए थे लेकिन ये अमीरों को और धनवान तथा निर्धन को और गरीब बनाएगा। वहीं मध्यम वर्ग को इसमें कुछ भी नहीं मिला है।

ये भी पढ़ें : भाजपा से नाराज निषाद पार्टी, संजय निषाद ने कर दिया बड़ा एलान

उन्होंने पश्चिम बंगाल में ग्रामीण सड़कों के निर्माण के आंकड़े देते हुए कहा कि ग्रामीण सड़कें 2011 तक 39,705 किलोमीटर ग्रामीण सड़कें थीं। 2011-20 के बीच 88,841 किलोमीटर ग्रामीण सड़कों का निर्माण हुआ है। डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि ग्रामीण सड़कों के मामले में पश्चिम बंगाल पहले स्थान पर है।

ये भी पढ़ें : नहीं बदलेगा मौसम का मिजाज, बारिश के बाद बढ़ेगी अधिक ठंड

Related Articles

Back to top button