Man Ki Baat: जानें PM मोदी की बड़ी बातें, मिशन तूफान में लोगों को Salute

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में आक्सीजन सप्लाई में भारतीय रेल की सराहना की

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में देश को संबोधित किए है। ये उनके रेडियो कार्यक्रम का 77वां संशोधन है। पीएम मोदी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि, अभी-अभी पिछले 10 दिनों में ही देश ने फिर दो बड़े Cyclones का सामना किया। पश्चिमी तट पर Cyclone ताऊते और पूर्वी Coast पर Cyclone यास। इन दोनों चक्रवातों ने कई राज्यों को प्रभावित किया है। देश और देश की जनता इनसे पूरी ताकत से लड़ी और कम से कम जनहानि सुनिश्चित की। हम अब ये अनुभव करते है कि पहले के वर्षो की तुलना में, ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान बचा पा रहे हैं।

लोगों को PM मोदी का Salute

पीएम मोदी ने कहा कि विपदा के इस कठिन परिस्थिति में Cyclone से प्रभावित हुए सभी राज्यों के लोगों ने जिस प्रकार से साहस का परिचय दिया है, इस संकट की घड़ी में बड़े धैर्य के साथ, अनुशासन के साथ मुकाबला किया है। उन्होंने कहा कि मैं आदरपूर्वक, हृदयपूर्वक, सभी नागरिकों की सराहना करना चाहता हूं। जिन लोगों ने आगे बढ़कर राहत और बचाव के कार्य में हिस्सा लिया, ऐसे सभी लोगों की जितनी सराहना करें। उतनी कम है। मैं उन सब को Salute करता हूं।

भारतीय रेल की सरहाना

प्रधानमंत्री मोदी बोले कि कोरोना की दूसरी लहर मे चुनौती के इस समय में ऑक्सीजन के परिवहन को आसान करने के लिए भारतीय रेल आगे आई। ऑक्सीजन एक्सप्रेस ने सड़क पर चलने वाले ऑक्सीजन टैंकर से कहीं ज्यादा तेजी से, कहीं ज्यादा मात्रा में ऑक्सीजन देश के कोने-कोने में पहुंचाया। कोरोना की शुरुआत में देश में केवल एक ही टेस्टिंग लैब थी लेकिन आज 2,500 से ज्यादा लैब काम कर रही हैं। शुरू में कुछ सौ टेस्ट एक दिन में हो पाते थे, अब 20 लाख से ज्यादा टेस्ट एक दिन में होने लगे हैं। अब तक देश में 33 करोड़ से ज्यादा सैंपल की जांच की जा चुकी है।

हमारे देश पर इतना बड़ा संकट आया, इसका असर देश की हर व्यवस्था पर पड़ा। कृषि व्यवस्था ने खुद को इस हमले से काफी हद तक सुरक्षित रखा। सुरक्षित ही नहीं रखा, बल्कि प्रगति भी की। इस महामारी में भी हमारे किसानों ने रिकॉर्ड उत्पादन किया है और देश ने रिकॉर्ड फसल की खरीद भी की।

यह भी पढ़ेदेश में पिछले 46 दिन में Corona virus के सबसे कम नए मामले, जानें क्या है आंकड़े

Related Articles