मनीष हत्याकांड: पुलिस ने कोर्ट में सेरेंडर करने जा रहे हेड कांस्टेबल को दबोचा

कानपुर: कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्या के मामले में वांछित एक और पुलिसकर्मी को बुधवार को गोरखपुर से गिरफ्तार किया गया। अतिरिक्त महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया कि हेड कांस्टेबल कमलेश कुमार यादव को एक गुप्त सूचना पर गिरफ्तार किया गया जब वह अदालत में आत्मसमर्पण करने जा रहे थे।

पुलिस के चंगुल से दूर है विजय यादव

पुलिस ने मंगलवार को सब-इंस्पेक्टर राहुल दुबे और कॉन्स्टेबल प्रशांत कुमार को गिरफ्तार किया था, जबकि रविवार को इंस्पेक्टर जेएन सिंह और सब-इंस्पेक्टर अक्षय मिश्रा को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

आपको बता दें कि 36 वर्षीय प्रॉपर्टी डीलर गुप्ता को पिछले महीने गोरखपुर के एक होटल में पुलिसकर्मियों ने कथित तौर पर पीटा था, जिससे उसकी मौत हो गई। कानपुर पुलिस ने शुरुआत में गुप्ता की हत्या में कथित रूप से शामिल छह पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले के लिए 25,000 रुपये के इनाम की घोषणा की थी, लेकिन शनिवार को राशि को बढ़ाकर 1 लाख रुपये कर दिया गया था।

पुलिस ने कहा कि प्राथमिकी में 6 पुलिसकर्मियों के नाम हैं और उनमें से 5 को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि एक विजय यादव को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है, जो अभी भी फरार है।

यह भी पढ़ें: विवाद: चीन ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू की अरुणाचल प्रदेश यात्रा पर जताई आपत्ति

Related Articles