Manish Sisodia: नई excise policy से अगले एक साल में 3000 करोड़ का होगा फायदा

दिल्ली सरकार अगले 12 महीनों में 3,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व हासिल करेगी। सिसोदिया ने कहा कि सरकार को शहर के 32 क्षेत्रों में शराब की दुकानों की बोली से लगभग 10,000 करोड़ रुपये हासिल करने की उम्मीद है

नई दिल्ली: दिल्ली के deputy chief minister Manish Sisodia ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार ने covid-19 महामारी के चलते पिछले साल 41 प्रतिशत कम राजस्व हासिल किया, उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष में मिला राजस्व 23 प्रतिशत कम है और उन्होंने आगे कहा कि नई आबकारी नीति से दिल्ली सरकार अगले 12 महीनों में 3,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व हासिल करेगी। सिसोदिया ने कहा कि सरकार को शहर के 32 क्षेत्रों में शराब की दुकानों की बोली से लगभग 10,000 करोड़ रुपये हासिल करने की उम्मीद है।

 

शराब की दुकानों को लाईसेंस वितरित क‍िया जाएगा

खबरों के मुताबिक इस साल 17 नवंबर से प्राईवेट वेंडर्स को लाईसेंस जारी करने की प्रक्र‍िया शुरू हो जाएगी। यानि 16 नवंबर तक चरणबद्ध तरीके से इन सभी पुरानी दुकानों के शटर बंद कर द‍िए जाएंगे अब Kejriwal Government का मानना है क‍ि इस नीत‍ि से राजस्‍व में 20 फीसदी की बढ़ोत्‍तरी होने की संभावना है और नई नीत‍ि में वार्ड के मुताबिक ही शराब की दुकानों को लाईसेंस आवंट‍ित क‍िया जाएगा और इतना ही नहीं सरकार की ओर से शराब की दुकानों पर ब‍िकने वाली शराब की क्‍वाल‍िटी की भी जांच की जाएगी। इसके ल‍िए सरकार एक क्‍वाल‍िटी चैक‍िंग स‍िस्‍टम भी तैयार कर रही है ज‍िसको जल्‍द ही तैयार कर ल‍िया जाएगा।

 

आपको बता दें द‍िल्‍ली में नई आबकारी नीत‍ि लागू होने के बाद अब शराब के कारोबार में कई बड़े बदलाव क‍िए जा रहे हैं, हालाकिं शराब की बिक्री के ल‍िए द‍िए जाने वाले लाईसेंस को लेकर भी नए मानक तैयार क‍िए गए हैं और साथ ही मौजूदा प्राईवेट और सरकारी शराब की दुकानों को भी चरणबद्ध तरीके से बंद करने की योजना पर काम क‍िया जा रहा है अब Delhi Government की ओर से शराब की प्राईवेट दुकानों Private Liquor Shops को जहां आगामी एक अक्‍टूबर से बंद करने की योजना है, वहीं इनको नया लाईसेंस देने के ल‍िए प्रक्र‍िया आगामी 17 नवंबर से शुरू हो जाएगी।

 

यह भी पढ़ें: Taliban government में जंग, नेटवर्क के नेता से कहासुनी के बाद बरादर ने काबुल छोड़ा

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)..

Related Articles