प्रदेशभर में छेरछेरा के रूप में प्रदेश सरकार से बेरोजगारी भत्ता और रोजगार मांगेगा मंजु लता टंडन

पामगढ

जिला सांसद प्रतिनिधि मंजु लता टंडन ने कहा कि सोमवार को छेरछेरा पर्व के पावन अवसर पर बेरोजगारी भत्ता और रोज़गार की मांग मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से छेरछेरा के रूप में करेंगे । मंजु लता टंडन ने कहा कि छेर छेरा के पावन अवसर पर छत्तीसगढ़ में दान की परंपरा हैं परंतु इस पावन अवसर पर युवाओं का हक मांगने उनका अधिकार मांगने प्रमुख चौक चौराहों और नुक्कड़ पर जाकर छेरछेरा के रूप में छत्तीसगढ़ के युवाओं का अधिकार उनका हक प्रदेश सरकार से मांगेंगे।उन्होंने प्रदेश सरकार पर छत्तीसगढ़ के युवाओं को रोज़गार के नाम पर लगातार ठगने और छलने का आरोप लगाया हैं ।

जैसा कि आप सभी को पता है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार। चुनाव के पहले प्रदेश के दस लाख युवाओं को 2500 रूपए मासिक बेरोजगारी भत्ता के हिसाब से एक साल मे तीस हजार होते है और तीन साल का बेरोजगारी भत्ता नब्बे हजार होता है मंजु लता टंडन ने कहा कि तीन साल का बेरोजगारी भत्ते कि राशि सीधे प्रदेश के युवाओ को उनके बैंक खाते मे भेजना चाहिये भत्ता देने का वादा करने वाली कांग्रेस पार्टी, सरकार बनने के बाद अपने इस वादे से साफ़ मुकर रही है। इनके मंत्री, विधायक और नेता इस वादे को घोषणा पत्र में शामिल ही नहीं होना बता रहे हैं। ऐसा बोलकर भूपेश सरकार ने नौकरी और बेरोजगारी भत्ता की आस लिए बैठे लाखों बेरोजगार युवाओं की छाती में मूंग दलने का काम किया है।

Related Articles