मनकामेश्वर और अलीगंज हनुमान मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला गिरफ्तार

लखनऊ: रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से पत्र भेज कर लखनऊ के नया हनुमान मंदिर, मनकामेश्वर मंदिर समेत शहर के कई धार्मिक स्थलों को बम से उड़ाने की धमकी देने के आरोपी मो. शफीक (32) को पुलिस ने गुरुवार दोपहर अलीगंज से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के पास से धार्मिक ग्रन्थ के 15 पन्ने और अन्य कागज़ात बरामद कर लिए है। अलीगंज पुलिस ने गुरुवार को पुरनियां पुल के नीचे से मूल रूप से शीलमपुर नई दिल्ली के रहने वाले मो0 शफीक को गिरफ्तार कर लिया है।

खुफिया और एटीएस की पूछताछ में पता चला है कि शफीक मूल रूप से नई दिल्ली के सीलमपुर का रहने वाला है लेकिन वो लखनऊ के बीकेटी के अस्ती भीखापुरवा मे किराए के मकान में रहता था। पूछताछ में उसने बताया कि कुछ दिन पहले काकोरी से गिरफ्तार युवकों को आतंकी बताए जाने से बेहद नाराज होकर उसने धार्मिक स्थलों को उड़ाने की धमकी दी। पुलिस और खुफिया टीमें आरोपी से पूछताछ कर उसके किसी नेटवर्क से जुड़े होने या मॉड्यूल खंगालने में जुटी हैं। कॉल डीटेल के साथ उसके साथियों की भी तलाश की जा रही है।

सीसीटीवी फुटेज से लगा सुराग

इसी महीने की एक तारीख अलीगंज के नए हनुमान मंदिर व अन्य धार्मिक स्थलो को बम से उड़ाए जाने की धमकी वाला पत्र रजिस्टर्ड डाक से भेजे जाने के सम्बन्ध मे अलीगंज थाने मे मुकदमा दर्ज कराया गया था। हनुमान मंदिर और मनकामेश्वर मंदिर मिले पत्र की जानकारी मिलने पर जांच की गई तो सीसीटीवी फुटेज में उसकी फोटो मिल गई थी। एटीएस और पुलिस पत्र मिलने के बाद से ही उसकी तलाश में जुटी थी। शफीक दिल्ली से आकर खदरा में आठ साल रहा। सात माह से वह बीकेटी में अस्ती रोड स्थित भीखापुरवा में रह रहा था।

संवेदनशील होने पर एक्शन

मामला संवेदनशील होने के कारण पुलिस ने डाक के द्वारा भेजे गए धमकी वाले पत्र को गम्भीरता से लेते हुए जांच शुरू की और पत्र भेज कर साम्प्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश करने वाले की तलाश शुरू कर दी पुलिस को महज़ पांच दिनो के अन्दर कामयाबी मिली और पुलिस ने धमकी देने वाले शफीक को गिरफ्तार कर लिया पुलिस अब शफीक के आपराधिक इतिहास का पता लगाने का प्रयास कर रही है।

Related Articles