मनोहर पर्रिकर: गोवा के नए हवाईअड्डे में तीन करोड़ यात्रियों की क्षमता

नई दिल्ली। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने गुरुवार को विधानसभा में कहा कि उत्तरी गोवा के मोपा प्लेटिओ में बन रहे हवाईअड्डे में सालाना तीन करोड़ यात्रियों की क्षमता होगी। विधानसभा के मानसून सत्र में पर्रिकर ने लिखित में बताया, “मोपा हवाईअड्डे को चार चरणों में बनाया जा रहा है, जिसके पहले चरण में प्रतिवर्ष 44 लाख यात्रियों, दूसरे चरण में 58 लाख यात्रियों, तीसरे चरण में 94 लाख यात्रियों तथा चौथे चरण में एक करोड़ 31 लाख यात्रियों की क्षमता का बनाया जाएगा।”

नागरिक विमानन मंत्रालय भी संभालने वाले मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले चरण की परियोजना की अनुमानित कीमत 1,900 करोड़ रुपये है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक नीलेश काबराल के प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि पहले चरण के 2020 में सितंबर तक पूरे होने की उम्मीद है।

पर्रिकर ने यह भी कहा कि राज्य सरकार और जीएमआर गोवा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड के बीच हुए समझौते के तहत हवाईअड्डे को यात्रियों के साथ-साथ माल के लिए भी विकसित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि मोपा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे के शुरू होने के बाद भी सैन्य सेवाओं द्वारा संचालित मौजूदा डबोलिम अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर नागरिक सेवाएं जारी रहेंगी।

Related Articles