मैं लड़की हूं,लड़ सकती हूं’ थीम का असर अब वाराणसी में भी दिखने लगा, 6 जनवरी को होगी मैराथन

UP चुनाव में कांग्रेस को जिंदा रखने के लिए प्रियंका गांधी पूरी तरह से जुटी हुई है

UP चुनाव में कांग्रेस को जिंदा रखने के लिए प्रियंका गांधी पूरी तरह से जुटी हुई है. जिसका असर अब यूपी चुनाव में दिखने को मिल सकता है. वहीं ट्विटर की टॉप ट्रेंडिंग में शामिल ‘मैं लड़की हूं , लड़ सकती हूं’ थीम का असर अब वाराणसी में भी दिखने लगा है. पूरे प्रदेश में महिला को मुद्दा बनाने पर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को चुनाव में बढ़त मिलने की उम्मीद है.

6 जनवरी को वाराणसी में कांग्रेस मैराथन

इसको देखते हुए वाराणसी के महानगर कांग्रेस कमेटी 6 जनवरी को वाराणसी में मैराथन निकालेगी. इस कार्यक्रम का रूट तय हो गया है. यह दौड़ काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सिंह द्वार से शुरू होकर नगर निगम के शहीद उद्यान तक जाएगी. करीब 7 किलोमीटर की यह चुनावी यात्रा सुबह 8 बजे से शुरू होगी. इसमें शहर भर से करीब 10 हजार लड़कियों के शामिल होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

मैं लड़की हूं, लड़ सकती हूं बटोर रही सुर्खियां

मैं लड़की हूं, लड़ सकती हूं की थीम पर यह मैराथन होगा. कांग्रेस कमेटी के महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे ने कहा कि UP में चल रहे कांग्रेंस के मैराथन को काफी सुर्खिया मिल रहीं हैं. इसको देखते हुए वाराणसी में भी इस मैराथन दौड़ को निकालने का फैसला लिया गया है. उन्होंने बताया कि सिंह द्वार से होते हुए लड़कियों का मैराथन रविंद्रपुरी के बाबा कीनाराम स्थल, फिर भेलूपुर थाना और कमच्छा से होते हुए शहीद उद्यान तक जाएगा. इसमें पूर्व विधायक कांग्रेस नेता अजय राय भी शामिल होंगे.

Related Articles