राष्ट्रपति चुनाव में बिहार के विधायक ने भी डाला वोट, ये है बड़ी वजह

0

देहरादून। उत्तराखंड में राष्ट्रपति चुनाव के लिए विधानसभा में सुबह से ही भारी संख्या में वोट डाले जा रहे हैं। इस दौरान सुबह से ही चुनाव को लेकर सारी तैयारियां की जा चुकी थीं। विधानसभा के हर तरफ कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की देखरेख में लोग वोट डालने आ रहे हैं। सबसे ख़ास बात ये है कि इस वोटिंग में भाग लेने बिहार के विधायक वीरेंद्र कुमार सिन्हा भी आये और उन्होंने वहां पहुंचकर अपना वोट डाला।

also read : राष्ट्रपति चुनाव के लिए मुख्यमंत्री ने लगाई पाठशाला, विधायक बने स्टूडेंट्स

राष्ट्रपति चुनाव

राष्ट्रपति चुनाव के दौरान सुबह से भारी संख्या में मतदान जारी

बता दें, राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनजर सुबह दस बजे से वोटिंग होनी शुरू हो गयी थी। सबसे पहले 10।05 पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, वित्त मंत्री प्रकाश पंत के साथ बिशन सिंह चुफाल और विधायक राजेश शुक्ला ने पहुंचकर अपना-अपना वोट डाला। वोटिंग की बात करें तो शुरुआत के 45 मिनट तक कुल 44 विधायक मतदान कर चुके थे।

इतना ही नहीं बिहार के विधायक वीरेंद्र कुमार सिन्हा भी राष्ट्रपति चुनाव में पीछे नहीं रहे। उन्होंने उत्तराखंड विधासभा पहुंचकर वोट दिया। आपको बता दें वो दरअसल अपने बेटे के एडमिशन के लिए यहां आये हुए हैं। इसके अलावा कांग्रेस की तरफ से प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व स्पीकर गोविंद सिंह कुंजवाल, ममता राकेश आदेश चौहान ने भी वोट डाला।

राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए उत्तराखंड विधानसभा में 71 विधायकों को अपने मत का प्रयोग करना है। इनमें 70 विधायक उत्तराखंड के और एक विधायक बिहार के हैं। प्रदेश के पांच लोकसभा सांसद और तीन राज्यसभा सांसद दिल्ली में मतदान करेंगे।

भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से निकुंज किशोर सुंदरे पर्यवेक्षक बनाये गए हैं। वोटिंग के दौरान वो पूरी गतिविधियों पर अपनी पैनी नजर बनाये हुए हैं। इसके अलवा सचिव विधानसभा जगदीश चंद्र रिटर्निंग ऑफिसर की भूमिका में हैं।

सबसे ख़ास बात ये है कि वोटिंग के दौरान भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से दिए गए विशेष पेन का ही इस्तमाल किया जा सकता है। अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी मस्तूदास ने बताया कि वोटिंग की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद मतदान पेटी को सील कर दिया जायेगा। मंगलवार को इस पेटी को फ्लाइट से दिल्ली भेज दिया जायेगा।

loading...
शेयर करें