एक्शन में आई दिल्ली सरकार, जिंदा बच्चे को मृत बताने वाले मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द किया

0

नई दिल्ली। मैक्स अस्पताल में मृत घोषित नवजात के दम तोड़ने के बाद दिल्ली सरकार ने कड़ी कार्रवाई करते हुए शालीमार बाग स्थित इस अस्पताल का लाइसेंस शुक्रवार को रद्द कर दिया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि लाइसेंस ‘तत्काल प्रभाव से’ रद्द हो गया है। राज्य सरकार के पास आई शुरुआती रिपोर्ट में मैक्स अस्पताल को दोषी पाया गया था।

मामले में 22 नवंबर को भी नोटिस जारी किया जा चुका था

दिल्‍ली पुलिस की ओर से अस्‍पताल प्रशासन को भेजे गए नोटिस के अलावा दिल्‍ली सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने भी पहले इस संबंध में नोटिस जारी किया था। दिल्‍ली सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने पहले बताया था कि मैक्‍स अस्‍पताल को एक और लापरवाही के मामले में 22 नवंबर को भी नोटिस जारी किया जा चुका था।

क्या था मामला

बीते 30 नवंबर की सुबह मैक्स अस्पताल में एक महिला ने जुड़वां बच्चों (एक लड़का और एक लड़की) को जन्म दिया था। बच्ची मृत पैदा हुई थी। अस्पताल ने बच्चे के माता-पिता को बताया कि दोनों बच्चे मृत पैदा हुए हैं और उन्हें दोनों बच्चे एक पॉलीथिन बैग में सौंप दिए गए, लेकिन उनके अंतिम संस्कार से ठीक पहले परिवार ने पाया कि एक बच्चा जीवित है।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने क्या कहा

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने बताया था कि डॉक्‍टरों पर कार्रवाई के संबंध में मेडीकल काउंसिल को मामला भेजा गया था। सूत्रों की मानें तो वहां से फैसला आने के बाद ही ये कदम उठाया गया है। अब आरोपी डॉक्‍टरों पर भी बड़ी कार्रवाई किए जाने के संकेत मिल रहे हैं। हालांकि डॉक्टरों के संबंध में भी अस्‍पताल को चेतावनी दे दी गई है।

loading...
शेयर करें