UP Panchayat Election Results के बाद मायावती ने किया बड़ा दावा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने में ज्यादा समय नहीं बचा हुआ है। ऐसे में चुनाव को देखते हुए सभी राजनीतिक पार्टियां अलर्ट हो गई हैं। हाल ही में हुए पंचायत चुनाव को लेकर भी विपक्षी पार्टियों ने बाजी  मारी है। ऐसे में बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बड़ा दावा किया है कि पंचायत चुनाव में जितने भी निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है वह कहीं ना कहीं से बसपा से जुड़े हुए लोग हैं।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बयान जारी कर कहा कि पंचायत चुनाव में सत्ता व सरकारी मशीनरी का भारी दुरुपयोग और विरोधी पार्टियों द्वारा अपार धनबल के अनुचित इस्तेमाल के बावजूद बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने लगभग पूरे प्रदेश में जो रिज़ल्ट प्रदर्शित किया है वह अति-उत्साहवर्द्धक है। उन्होंने आगे  कहा कि प्रदेश में होने वाले अगामी विधानसभा चुनाव के लिए लोगों में नई उर्जा, जोश भरने व हौंसले बुलन्द करने वाला है।

मायावती का बड़ा दावा

BSP चीफ मायावती ने पार्टी के कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश की जनता का तहेदिल से आभार प्रकट करते हुए और पार्टी के हर स्तर के सभी छोटे-बड़े कार्यकर्ताओं को हार्दिक बधाई। मायावती ने बड़ा दावा करते हुए कहा कि जितने भी निर्दलीय उम्मीदवार कामयाब हुए हैं उनमें से ज्यादातर वास्तव में BSP से ही जुड़े हुए लोग हैं, जिन्होंने खासकर रिजर्व सीटों पर आम सहमति नहीं बन पाने पर अपने-अपने बूते पर ही चुनाव लड़कर जीत हासिल की है।

मायावती ने आगे कहा कि प्रदेश के जिन जिलों में BSP समर्थित प्रत्याशी के लिए आम सहमति बन गई वहां BSP का अच्छा रिजल्ट आया है। उन्होंने आगे कहा कि जिन जिलो में आम सहमति नहीं बनने के कारण, एक-एक सीट पर कई लोग बसपा के झण्डे और बैनर तले चुनाव लड़े वहाॉं सामान्य सीटों पर तो पार्टी को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ, लेकिन सुरक्षित सीटों पर पार्टी के कई-कई उम्मीदवार खड़े होने की वजह से ऐसा नहीं हो सका, जिसका फिर ज्यादातर लाभ विरोधी पार्टियों को पहुंच गया। उन्होंने कहा कि इससे काफी कुछ सबक सीखकर अब पार्टी के लोग खुद ही आगे ऐसी गलती नहीं करेंगे, ऐसी उनसे पूरी-पूरी उम्मीद है।

ये भी पढ़ें: कोरोना से UP के दिग्गज नेता चौधरी अजीत सिंह का निधन, गुडगाँव में थे भर्ती

Related Articles