बिहार की राजनीति ने यूपी की सियासी गलियारों में मचाई हलचल, माया ने ट्वीट कर बयां किया दर्द

0

लखनऊ। बिहार की राजनीति में उलट फेर की वजह से यूपी की सियासी गलियारों में हलचल मची हुई है। नीतीश के इस्तीफा देना और बीजेपी के सहयोग सरकार बनाने के बाद विरोधी गुट भड़के हुए हैं। इस मुद्दे पर तमाम नेता अपनी राय रख रहें हैं। जहां अखिलेश यादव ने ट्वीट कर के तंज कसा तो वहीं अब मायावती ने भी दिल की भड़ास निकाली है।

मायावती ने ने ट्वीट कर जनता से मांगी मदद

बहुचन समाजपार्टी की मुखिया मायावती ने ट्वीट कर कहा है कि जो कुछ हो रहा है वो लोकतंत्र के लिए शुभसंकेत नहीं है। देश की आम जनता को आगे आकर लोकतंत्र को बचाना होगा। मायावती का यह ट्वीट बता रहा है कि नीतीश के अलग होने के बाद महागठबंधन का भविष्य अधर में नजर आरहा है।

ये भी पढ़ें : नीतीश पर अखिलेश का वार, कहा-‘ना-ना करते प्यार ​तुम्हीं से कर बैठे’

जिस गठबंधन के बदौलत तमाम राजनीति पार्टियां राजनीति की सत्ता हासिल करने का सपना देख रहीं थीं उसी सपने की नीव नीतीश ने हिला दी। वहीं अखिलेश यादव ने भी ट्वीट कर नीतीश पर तंजा कसते हुए लिखा था कि ना ना करते, प्यार तुम्हीं से कर बैठे, करना था इंकार मगर इक़रार तुम्हीं से कर बैठे, Bihar Today।’

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने बुधवार शाम को इस्तीफा देकर बिहार की राजनीति में हलचल मचा दी। लालू यादव की पार्टी से अपना गठबंधन तोड़ने के बाद नीतीश ने बीजेपी के समर्थन उन्होंने छठी बार बिहार की कुर्सी हासिल कर ली है । जबकि सुशील मोदी दूसरी बार डिप्टी सीएम बने हैं। अब नीतीश कुमार के पास विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए 29 जुलाई तक का वक्त है।

जबकि वहीं बिपक्ष ने तेजस्वी यादव को अपना नेता चुना है। नीतीश के बीजेपी में शामिल होने के बाद जदयू में विरोध के स्वर उठने शुरू हो गए हैं। पार्टी के कुछ नेता बीजेपी से गठबंधन के खिलाफ हैं।

loading...
शेयर करें