UP चुनाव से पहले मायावती का बड़ा दांव, BSP करेगी ब्राह्मण सम्मेलन

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले बसपा प्रमुख मायावती ब्राह्मण समाज को जागरूक करने के लिए 23 जुलाई से अयोध्या में एक अभियान शुरू करेंगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) विधानसभा चुनाव से पहले, बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख मायावती (Mayawati) ने बड़ा दांव खेलने की तैयारी शुरू कर ली है। प्रदेश में मायावती ने एक बार फिर ब्राह्मणों को साधने में जुट गई है। जिसके लिए ब्राह्मण समाज (Brahmin society) को जागरूक करने के लिए 23 जुलाई से अयोध्या से एक अभियान शुरू किया जा रहा है।

ब्राह्मण वोट

बसपा प्रमुख मायावती ने यह कहा है मुझे पूरा भरोसा है कि अब ब्राह्मण समाज के लोग भाजपा (BJP) के किसी भी तरह के बहकावे में नहीं आएंगे। मुझे पूरी उम्मीद है कि ब्राह्मण अगले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को वोट नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण समाज को फिर से जागरूक करने के लिए 23 जुलाई से अयोध्या से एक अभियान शुरू किया जा रहा है।

मायावती ने यह भी बोला किसानों की मांगों के संबंध में संसद में केंद्र पर हर तरह का दबाव बनाना जरूरी है। केंद्र सरकार की गलत आ​र्थिक और अन्य नीतियों की वजह से देश में बढ़ती बेरोजगारी के बीच महंगाई के आसमान छूने से लोगों के सामने काफी मुश्किलें खड़ी हो गई हैं। उन्होंने कहा विपक्षी दलों को एक साथ आना चाहिए और केंद्र सरकार को जवाबदेह ठहराना चाहिए। तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के प्रति सरकार की उदासीनता बेहद दुखद है. बसपा सांसद ईंधन और रसोई गैस की कीमतों, मुद्रास्फीति और COVID टीकाकरण से संबंधित मामलों को संसद में उठाएंगे।

केंद्र सरकार से जवाबदेही

मायावती ने बोला कि मैंने अपनी पार्टी के सांसदों को संसद के मानसून सत्र में देश और लोगों के लाभ से संबंधित मामलों को उठाने का निर्देश दिया है। ऐसे कई मामले हैं जिन पर देश की जनता केंद्र सरकार से जवाबदेही चाहती है।

यह भी पढ़ेरंग भेद के खिलाफ लड़ते हुए 27 साल जेल में बिताए, लोग मनाते है आज उनके लिए International Day

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles