भूख हड़ताल पर बैठे महापौर जयप्रकाश की तबीयत बिगड़ी

बकाया भुगतान को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर जयप्रकाश की तबीयत खराब

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार से निगमों के 13 हजार करोड़ रुपये बकाया भुगतान की मांग को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर जयप्रकाश की तबीयत अचानक खराब हो गयी।

सीएम आवास पर धरना

दिल्ली के तीनों निगमों के महापौर सात दिसंबर से मुख्यमंत्री आवास पर धरने पर बैठे हैं और शुक्रवार से उन्होंने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू की है। महापौर जयप्रकाश की तबीयत खराब होने पर डॉक्टर ने उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी है।

दिल्ली के तीनों निगमों में फंड को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का कोई मौका नहीं चूक रहे हैं। आम आदमी पार्टी ने निगमों में 2500 करोड़ रुपये के घोटाले का आरोप लगाया है तो वहीं भाजपा शासित निगमों के नेता 13000 करोड़ रुपये बकाया भुगतान की मांग को लेकर अड़े हैं।

बिधूड़ी का बयान

दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी ने नगर निगमों पर 2500 करोड़ रुपये के घपले के आरोपों को आधारहीन और तथ्यहीन करार देते हुए केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के विधायकों को चुनौती भरे लहजे में कहा था कि यदि घपले की बात साबित हो जाए, तो वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे।

बिधूड़ी ने कहा कि यदि यह आरोप गलत साबित होता है, तो उन लोगों को माफी मांगनी चाहिए जो यह अनर्गल आरोप लगा रहे हैं।

यह भी पढ़ेअमिताभ ने बोला मैनु मिठ्ठा नहीं पसंद, Instagram पर शेयर पोस्ट

यह भी पढ़ेफ्रांस में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 60 हजार के पार

Related Articles

Back to top button