मेरठ : 15 साल की मासूम के साथ हुई दिल दहला देने वाली हैवानियत, खेतों में मिली लाश

0

मेरठ। पुरुषवादी समाज में महिलाओं के प्रति संवेदनशीलता खत्म होती जा रही है। लड़कियों को सिर्फ हवस मिटाने के नजरिये से देखने वाले पुरुषों की संख्या समाज में दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। ऐसा ही एक मामला फिर से सामने आया है। 26 दिसंबर से गाजियाबाद जिले के मोदीनगर से लापता एक 15 वर्षीय लड़की का क्षतविक्षत शव शुक्रवार सुबह मेरठ के परतापुर क्षेत्र के अधैडा और गेझा गांव के खेत में पड़ा मिला। शव की हालत देखकर उसके साथ दरिंदगी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। पुलिस ने शव अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

लड़की के पिता ने पुलिस पर लगाया कार्रवाई ना करने का आरोप

मोदीनगर कोतवाली क्षेत्र कॉलोनी स्थित मंदिर में लड़की के पिता महंत हैं। उनकी 15 साल की बेटी 10वीं की छात्रा थी। छात्रा के पिता ने बताया कि उन्होंने 27 दिसंबर को मोदीनगर स्थित पुलिस स्टेशन में अपनी बेटी के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। लेकिन पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंने बताया, ‘कुछ लड़कों ने मेरी बेटी को अगवा कर लिया था। मैंने अगवा करने वालों में से एक लड़के का मोबाइल नंबर भी पुलिस को दिया था, लेकिन पुलिस ने उनका पता लगाने का कोई प्रयास नहीं किया।’ इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपियों ने उनकी बेटी के साथ गैंगरेप करने के बाद उसकी हत्या कर दी।

मां की डांट से क्षुब्ध होकर घर से निकल गई थी छात्रा

लड़की के परिवार ने बताया कि छात्रा 26 दिसंबर की दोपहर को अपनी मां द्वारा फटकारे जाने के बाद घर से निकल गई थी। उसकी मां को उसके पास से एक मोबाइल फोन मिला था, जिसे उसके पैरंट्स ने नहीं दिया था। इसी के चलते उसे फटकार लगी।’ लड़की की मां ने बताया कि उसके घर से जाने के बाद हमने आसपास के इलाके में उसकी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिली।

थाने के प्रभारी निरीक्षक हुए सस्पेंड, सीओ का किया गया ट्रांसफर

इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में मोदीनगर थाने के प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है, जबकि सीओ राज़ कुमार सिंह का ट्रांसफर कर दिया गया है। एस.पी. (रूरल) अरविंद कुमार मौर्य ने कहा कि घटना का खुलासा करने के लिए टीमें गठित की गई हैं। जल्दी ही इस घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। लड़की के घर के पास तनाव देखते हुए मोदी नगर के कृष्णा नगर में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

गले की हड्डी को तोड़कर की गई छात्रा की हत्या

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक शव दो दिन पुराना था। लिहाजा अपहरण के बाद 16 दिन बाद उसकी हत्या की गई। गले की हड्डी टूटी होने से लग रहा है कि छात्रा को फांसी पर लटकाकर मौत के घाट उतारा गया। सीओ ब्रह्मपुरी अखिलेश भदौरिया ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है। वहीं, ग्रामीणों के मुताबिक लाश के सिर पर गहरा जख्म होने के साथ-साथ उसकी गर्दन के पास सिगरेट से जलाए गए कुछ निशान भी देखे गए थे।

loading...
शेयर करें