जी-7 के सदस्य महत्वपूर्ण विकसित देश हैं: गेंग शुआंग

बीजिंग: चीन के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने उम्मीद जताई है कि समूह सात (जी-7) समय की प्रवृत्ति का पालन करेंगे और शांति, सुरक्षा और साझा विकास में रचनात्मक भूमिका निभाएंगे। सरकार के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने सोमवार को दैनिक प्रेस वार्ता में कहा, “जी-7 के सदस्य महत्वपूर्ण विकसित देश हैं। हमें उम्मीद है कि ये देश समय के रुख का अनुसरण कर सकते हैं। वे अपनी जिम्मेदारियों को निभा सकते हैं, योगदान दे सकते हैं, अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा की रक्षा में एक रचनात्मक भूमिका निभा सकते हैं और सभी देशों के आम विकास को बढ़ावा दे सकते हैं।”

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, गेंग की टिप्पणी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के किंगदाओ शिखर सम्मेलन की सफलता व जी-7 शिखर सम्मेलन में अनबन पर मीडिया रपटों के बाद आई है।


गेंग ने कहा कि चीन इस बात पर प्रतिबद्ध है कि देशों को पारस्परिक सम्मान, समानता और आंतरिक मामलों में गैर-हस्तक्षेप सहित सिद्धांतों के आधार पर संबंध विकसित करने चाहिए और बहुपक्षीय सहयोग किसी भी तीसरे पक्ष को लक्षित किए बगैर समावेशी और खुले होने चाहिए।

गेंग ने कहा कि चीन जी-7 सदस्यों सहित अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ काम करने के इच्छुक है।

गौरतलब है कि जी-7 समूह में सात प्रमुख औद्योगिक देश कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं।

Related Articles