इंडियन हॉकी टीम की मिडफिल्डर नमिता बोलीं, ‘वर्षों तक बेहतरीन खिलाड़ियों के संग खेलने का मिला सौभाग्य’

25 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, हॉकी इंडिया के अथक प्रयास से हम 36 साल बाद 2016 में ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई कर पाने में सफल रहे हैं।

बेंगलुरु: भारतीय महिला हॉकी टीम की दिग्गज मिडफिल्डर खिलाड़ी नमिता टोप्पो ने कहा है कि वह भाग्यशाली रही हैं कि इतने वर्षों तक उन्हें कुछ बेहतरीन खिलाड़ियों का साथ मिला।

टोप्पो ने कहा, ‘‘मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि मुझे इतने वर्षों तक कई बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिला। यह महिला टीम में वह समय है जहां हम सभी में आत्मविश्वास है और हमारे अंदर भरोसा काफी मजबूत है।’’

25 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, ‘‘हॉकी इंडिया के अथक प्रयास से हम 36 साल बाद 2016 में ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई कर पाने में सफल रहे हैं। इसके बाद हमने शानदार प्रदर्शन किया और फिर लगातार दूसरी बार ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई कर इतिहास रचा। हम अपनी यह लय बरकरार रखना चाहते हैं। मेरी कोशिश है कि हर स्थिति में हमारी टीम का फायदा मिले।’’

टोप्पो को पिछले वर्ष के उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए ओडिशा के प्रतिष्ठित एकलव्य पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया था। उन्होंने कहा, ‘‘मैं एकलव्य पुरस्कार 2020 जीतकर सम्मानित महसूस कर रही हूं। बतौर भारतीय हॉकी टीम के सदस्य के रूप में इसने मुझे काफी खुशियां दी है और इससे पूरी टीम को गौरवान्वित होने का अवसर प्राप्त हुआ है। उन्हीं के सहयोग के कारण मैं पिछले वर्ष चोट से उबरने के बाद बेहतर प्रदर्शन कर पाई।’’

अब तक 160 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुकी नमिता टोप्पो के पास अनुभव की कमी नहीं है। वह हर स्थिति में अपनी टीम की मदद सुनिश्चित करना चाहती हैं।

ये भी पढ़ें : चुनाव में अमेरिकी संविधान का हुआ उल्लंघन, लाखों मतपत्रों को बदला गया : ट्रंप

Related Articles

Back to top button