मंत्री कमल पटेल ने कहा, ‘किसान अब सिर्फ खेती पर निर्भर नहीं रहेंगे’

हरदा: मध्यप्रदेश के किसान कल्याण और कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि नवीन कृषि विधेयक किसानों की आर्थिक सशक्तिकरण के मार्ग को सरल और सुगम बनाएंगे तथा किसानों के आर्थिक उत्थान का मुख्य साधन बनेंगे।

कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने हरदा जिले के एक दर्जन से अधिक गांवों में कल विधेयकों के समर्थन में आयोजित किसान चौपालों को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में किसानों को नवीन कृषि विधेयकों के फायदों के संबंध में अवगत कराया। इन चौपालों में नवीन कृषि विधेयकों के समर्थन में बड़ी संख्या में उपस्थित होकर किसानों ने केंद्र सरकार और मध्य प्रदेश सरकार के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया।

देश की तस्वीर बदलेगी: पटेल

इस अवसर पर उन्होंने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि जब किसान जागरूक होंगे और नवीन कृषि विधेयकों के प्रावधानों को समझेंगे तो उन्हें खुद समझ में आएगा कि यह विधेयक किसानों के हित में लाए गए हैं। इन विधेयकों से किसानों की तकदीर और प्रदेश एवं देश की तस्वीर बदलेगी। इन विधेयकों में वे तमाम प्रावधान किए गए हैं जिनसे किसानों की माली हालत को सुधारा जा सके और उन्हें आर्थिक रूप से समृद्ध बनाया जा सकें।

कमल पटेल ने कहा कि प्रदेश के किसान अब सिर्फ खेती पर निर्भर नहीं रहेंगे बल्कि उनके होनहार बच्चों को खेती से संबंधित समस्त व्यवसाय करने में सहायता मिलेगी। एक और इनसे जहां किसानों के बच्चों को गांव में ही रोजगार मिलेगा वहीं दूसरी ओर उनकी आर्थिक स्थिति में भी क्रांतिकारी परिवर्तन आएगा।

उन्होंने किसानों से आह्वान किया कि वे नवीन विधेयकों का समर्थन करें और विरोध करने वालों को बता दें कि खेती किसानी में बिचौलियों को अब पनपने नहीं देंगे, उन्हें खत्म करेंगे और किसान अपने उत्पाद का पूरा पूरा मूल्य हासिल करेगा। उन्हाेंने कहा कि किसानों को नवीन विधेयकों के प्रति जागरूक करने के लिए उनका अभियान निरंतर जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रपति चुनाव के बाद हंगामा, कई लोगों को किया गया गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button