प्रयागराज शहर की विद्युत समस्याओं को लेकर ऊर्जा मंत्री से मिले मंत्री नन्दगोपाल ’नन्दी’

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण, वक्फ एवं हज, राजनैतिक पेंशन एवं नागरिक उड्डयन मंत्री एवं प्रयागराज शहर दक्षिणी विधानसभा के विधायक नन्द गोपाल गुप्ता ’नन्दी’ ने आज अपने विधानसभा क्षेत्र की विद्युत समस्याओं को लेकर लखनऊ स्थित शक्ति भवन में माननीय ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जी से शिष्टाचार भेंट की।

मंत्री नन्दी ने अपने विधानसभा क्षेत्र प्रयागराज में रहने वाले करीब तीन हजार परिवारों को बिजली के तारों के मकड़ जाल एवं आए दिन हो रहे छोटे-मोटे फाल्ट से पूरी तरह से छुटकारा दिलाने के लिए रामबाग सब स्टेशन से शिवाजी पार्क तक छह किलोमीटर एरिया में 5.50 करोड़ रूपये की लागत से प्रस्तावित अंडरग्राउण्ड एचटी एवं एलटी लाइन शिफ्टिंग कार्य कराए जाने की मांग की, जिस पर ऊर्जा मंत्री ने जल्द से जल्द कार्य कराए जाने एवं वित्तीय स्वीकृति दिए जाने का आश्वासन दिया।

नन्द गोपाल ’नन्दी’ ने ऊर्जा मंत्री को बताया कि शहर की दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र में जीटी रोड पर रामबाग सब स्टेशन से शिवाजी पार्क के बीच तिलक रोड, सुलाकी चैराहा, लोहिया पांडेय का हाता, कोठा पार्चा, रामभवन चैराहा आदि इलाकों में लगे बिजली के खंभों और उन पर फैले तारों के मकड़जाल से लोगों को काफी दिक्कत होती है। तारों के मकड़जाल से आए दिन विद्युत फाल्ट की समस्या बनी रहती है। इस समस्या से करीब तीन हजार परिवारों को राहत दिलाने और बिजली के खंभों को हटा कर एचटी और एलटी लाइन को अंडरग्राउण्ड किए जाने का प्रस्ताव बनाया गया है।

मंत्री नन्दी ने कहा कि जीटी रोड पर रामबाग सब स्टेशन से शिवाजी पार्क तक छह किलोमीटर एरिया में एचटी और 37 किलोमीटर एरिया में एलटी लाइन को अंडरग्राउण्ड किए जाने से एक तरफ जहां सड़क चौड़ी हो जाएगी वहीं विद्युत फाल्ट की समस्या से लोगों को राहत भी मिल जाएगी।

मंत्री नन्दी ने कहा कि एचटी और एलटी लाइन अंडरग्राउण्ड किए जाने से ठाकुरदीन का हाता, मुनव्वर वाली गली, पीली कोठी, बंशीधर मार्केट, कोठा पार्चा, लोहिया पांडेय का हाता आदि इलाकों में रहने वाले लोगों को काफी सहूलियत होगी। ऊर्जा मंत्री ने प्रस्तावित योजना पर जल्द से जल्द वित्तीय स्वीकृति दिए जाने का आश्वासन दिया।

ये भी पढ़ें :  15 अगस्त को ‘शेरशाह’ में कैप्टन विक्रम बत्रा की अविश्वसनीय कहानी का प्रीमियर करेगा Amazon Prime

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles