भारत-अमेरिका के विदेश और रक्षा मंत्री करेंगे ‘टू प्लस टू प्लस संवाद’

नई दिल्ली: भारत और अमेरिका के विदेश तथा रक्षा मंत्री ‘तीसरे मंत्री स्तरीय टू प्लस टू संवाद’ में हिस्सा लेने पहुंच गए है। जिसमें समग्र वैश्विक सामरिक भागीदारी को मजबूत बनाने और हिन्द प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने सहित विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जायेगी।

भारतीय पक्ष का प्रतिनिधित्व

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क एस्पर इस संवाद में हिस्सा लेने के लिए दो दिन की यात्रा पर सोमवार को यहां पहुंचे थे। भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री डॉ एस. जयशंकर इस संवाद में भारतीय पक्ष का प्रतिनिधित्व करेंगे। विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा , “ तीसरे संवाद के एजेन्डे में परस्पर महत्व के सभी द्विपक्षीय , क्षेत्रीय तथा वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की जायेगी। ”

बेसिक एक्सचेंज एंड कोपरेशन एग्रीमेंट

अमेरिकी मंत्रियों ने सोमवार शाम को ही अपने भारतीय समकक्षों के साथ अलग-अलग ‘द्विपक्षीय बैठकें’ भी की हैं। ‘टू प्लस टू संवाद’ के दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा क्षेत्र में संबंधों तथा सहयोग को और मजबूत बनाने तथा जिशेस्पेशियल सहयोग के लिए बेसिक एक्सचेंज एंड कोपरेशन एग्रीमेंट (बीका ) पर ‘हस्ताक्षर’ किये जायेंगे। बाद में अमेरिकी मंत्रियों का प्रधानमंत्री से मिलने का भी कार्यक्रम है।

पहला ‘टू प्लस टू मंत्री स्तरीय’ संवाद

दोनों देशों के बीच ‘पहला टू प्लस टू मंत्री स्तरीय’ संवाद यहां सितम्बर 2018 में  हुआ था। जबकि दूसरा ‘वाशिंगटन’ में 2019 में हुआ था। ‘तीसरा टू प्लस टू मंत्री स्तरीय संवाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीते फरवरी में भारत यात्रा के सात महीने बाद हो रहा है।

स्वतंत्र, मजबूत और समृद्ध राष्ट्र

विदेश मंत्री पोम्पियो का श्रीलंका, मालदीव और इंडोनेशिया जाने का भी कार्यक्रम है। उन्होंने टि्वट कर कहा , “ स्वतंत्र, मजबूत और समृद्ध राष्ट्रों वाले हिन्द प्रशांत क्षेत्र को मुक्त तथा खुला रखने के साझा विजन को बढावा देने के लिए अपने साझीदार के साथ बातचीत के अवसर के लिए आभारी हूं। ”

यह भी पढ़े:ब्राजील के पूर्व फुटबॉल खिलाड़ी कोरोना से संक्रमित, इंस्टाग्राम पर वीडियो जारी कर दी सूचना

यह भी पढ़े:सड़क पर गिरे घायल को कलेक्टर ने पहुंचाया अस्पताल, स्टाफ को दिया नोटिस

 

Related Articles

Back to top button