मंत्री ने बच्चों से प्लास्टिक प्रदूषण खत्म करने के लिए मांगा सहयोग

0

नई दिल्ली: केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को स्कूली छात्रों से पर्यावरण संरक्षण का आग्रह करते हुए प्लास्टिक प्रदूषण के खतरे को समाप्त करने में उनकी मदद मांगी। भारत के मेजबानी में मंगलवार को मनाए जाने वाले विश्व पर्यावरण दिवस का विषय भी प्लास्टिक प्रदूषण है।

 प्लास्टिक प्रदूषण मंत्री ने कहा, “मैं आप सभी से हरित योद्धा बनने का अनुरोध करता हूं। प्रत्येक दिन एक अच्छा हरित कार्य करें और प्लास्टिक के प्रयोग पर लगाम लगाने में हमारी मदद करें।”

विशेषज्ञों के मुताबिक, प्रत्येक दिन विश्व में 500 अरब प्लास्टिक थैलों का प्रयोग होता है।  केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की 2015 में आई रिपोर्ट बताती है कि भारत के प्रमुख 60 बड़े नगरों में प्रति दिन करीब 4,059 टन प्लास्टिक कटरा पैदा होता है। इस सूची में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, बेंगलुरू और हैदराबाद जैसे शहर शीर्ष पर हैं।

इसमें कहा गया कि देश में प्रति दिन करीब 25,940 टन प्लास्टिक कचरा उत्पन्न होता है। हर्षवर्धन ने चाणक्यपुरी में छात्रों को संबोधित किया और बच्चों को अपने दैनिक जीवन में प्लास्टिक के उपयोग को कम करने और डिस्पोजेबल प्लास्टिक को रोकने के लिए शपथ भी दिलाई।

उन्होंने बाद में विश्व साइकिल दिवस पर साइकिल चलाने वाली एक मिनी मैराथन ‘एंवीथॉन’ को झंडी दिखाई।

loading...
शेयर करें