लखीमपुर हिंसा पर मंत्री पुत्र मुख्य आरोपी, SIT ने दाखिल की 5 हजार पन्नों की चार्जशीट

SIT ने न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल कर दिया

लखीमपुर खीरी हिंसा के आज 90 दिन पूरे हो चुके हैं. SIT ने न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल कर दिया है. सूत्रों के हवाले से पता चला है कि यह चार्जशीट 5 हजार पन्ने की है. इसमें केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्र को हत्या का आरोपी बताया गया है. मंत्री के रिश्तेदार वीरेंद्र कुमार शुक्ला का नाम भी आरोपियों की सूची में जोड़ा गया है। शुक्ला पर साक्ष्य मिटाने का आरोप है.

मामा को भी बनाया गया है आरोपी

कोर्ट रूम के बाहर मीडिया से बातचीत में किसानों के वकील ने बताया कि चार्जशीट में मंत्री अजय मिश्रा का नाम जोड़ने की अर्जी भी दी गई थी, लेकिन चार्जशीट में उनका नाम नहीं जोड़ा गया है. बता दें लखीमपुर के तिकुनिया में 3 अक्टूबर को एक पत्रकार समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी. इसमें दोनों तरफ से मुकदमा दर्ज कराया गया था. मामले की जांच उत्तर प्रदेश SIT कर रही है. इस केस में मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा मोनू समेत 13 लोग न्यायिक हिरासत में जेल में बंद हैं

SIT ने हादसा नहीं, सोची-समझी साजिश बताया

SIT के इंस्पेक्टर विद्या राम दिवाकर ने इसे दुर्घटना न बताकर सोची-समझी साजिश बताया था. उन्होंने अदालत से अनुरोध किया था कि मामले में आरोपियों के खिलाफ धाराओं को बदल दिया जाए. आगे से मामले की जांच उन्हीं धाराओं के तहत की जाए.

Related Articles