जन-विरोधी गतिविधियों के कारण विधायक प्रदीप पाणिग्रही पार्टी से निष्कासित

जन-विरोधी गतिविधियों के कारण बीजद ने विधायक प्रदीप पाणिग्रही को पार्टी से किया निष्कासित

भुवनेश्वर: बीजू जनता दल (बीजद) ने गोपालपुर के विधायक प्रदीप पाणिग्रही को जन-विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से निष्कासित कर दिया।

पार्टी से निष्कासित

बीजद महासचिव मानस रंजन मंगाराज ने विज्ञप्ति में बताया कि पार्टी अध्यक्ष नवीन पटनायक ने डॉ. प्रदीप पाणिग्रही को उनकी जनविरोधी गतिविधियों के कारण तत्काल प्रभाव से पार्टी से निष्कासित किये जाने का आदेश दिया है।

संपर्कों का खुलासा

पाणिग्रही हाल में उस समय चर्चा में आये जब निलंबित आईएफएस अधिकारी अभय कांत पाठक के साथ उनके कथित संपर्कों का खुलासा हुआ। सतर्कता विभाग ने पाठक के पास नौ करोड़ रूपये से अधिक की बेहिसाब संपत्ति पाये जाने के बाद उन्हें शुक्रवार को गिरफ्तार किया था और अभी वह नौ दिसम्बर तक न्यायिक हिरासत में हैं।

धनराशि की उगाही

स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक पाठक के पुत्र आकाश ने अपने को टाटा मोटर्स का अधिकारी बताते हुए गंजम जिले के युवकों से प्रबंधक और प्रशिक्षु इंजीनियर पद पर भर्ती के नाम पर कथित रूप से भारी धनराशि की उगाही की थी।

जयपुर में विवाह

रिपोर्टों में कहा गया कि आकाश और युवकों के बीच विधायक एक कड़ी थे। इसके अलावा विधायक की पुत्री का आकाश के साथ राजस्थान के जयपुर में विवाह होने वाला था और इसके समारोह की पूरी तैयारी कर ली गयी थी। इस बीच पाठक को उनके पुत्र के साथ गिरफ्तार कर लिया गया और न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

यह भी पढ़े:विश्व में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 6.22 करोड़ के पार, 14.52 लाख से अधिक लोगों की मौत

यह भी पढ़े:विदेशी मुद्रा भंडार लगातार आठवें सप्ताह बढ़ा, पहुंचा 575 अरब डॉलर 

Related Articles

Back to top button