मनरेगा मजदूरों के हित में खड़ा हुआ, ये संघ

कोरोना काल में जिन लोगों ने 90 दिन का काम पूर्ण कर लिया है उन मजदूरों को मनरेगा के तहद मिलने लाभों को गांव स्तर पहुंचाया जाए।

लखनऊ: राष्ट्रीय मनरेगा मजदूर संघ के तत्वाधान में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में संघ का अधिवेशन दिनांक 24 जनवरी को संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष समेत तमाम पदाधिकारी मौजूद रहें।

कार्यक्रम में पदाधिकारियों, संगठन के विस्तार और सशक्तिकरण मनरेगा मजदूरों की समस्याओं समेत कई मुद्दों पर चर्चा की गई। इसमें मजदूरों के हितों में मुख्य धारा में जोड़ने की चर्चा हुई।

प्रदेश अध्यक्ष बृजेश मिश्रा, प्रदेश महासचिव चिरंजीवी, सैफ अली के देखरेख में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वहीं कार्यक्रम में संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंबिका प्रसाद श्रमिक, राष्ट्रीय महासचिव राकेश कुमार, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष कमलेश कुमार त्रिपाठी, अयोध्या मण्डल अध्यक्ष बृजेश कुमार, प्रयागराज मण्डल प्रभारी योगेन्द्र और बस्ती जिला अध्यक्ष हेमराज समेत अन्य सहयोगी भी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम में लिया गया निर्णय

कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों ने निर्णय लिया है कि मार्च तक मनरेगा मजदूर संघ उत्तर प्रदेश के सभी 18 मण्डलों में ग्राम पंचायत स्तर तक प्रतिनीधि तैयार करेंगे। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले मनरेगा मजदूर मनरेगा का लाभ पा सके।

इसके साथ उन्होंने यूपी की सरकार से अपील किया कि जल्द से जल्द राज्य गारंटी परिषद का गठन करे। और उसमें मनरेगा मजदूर संघ को उचित प्रतिनीधित्व करे और जनपदों पर लोकपालों की नियुक्ति करे।

इसके साथ ही कोरोना काल में जिन लोगों ने 90 दिन का काम पूर्ण कर लिया है उन मजदूरों को मनरेगा के तहद मिलने लाभों को गांव स्तर पहुंचाया जाए।

यह भी पढ़ें: क्या बंद होने जा रहा है ‘द कपिल शर्मा शो’?

Related Articles