एलआईसी आईपीओ में Chinese investors नहीं चाहती मोदी सरकार

नई दिल्ली : भारत सरकार लाइफ इंश्‍योरेंस कॉरपोरेशन में Chinese investors को शेयर खरीदने से रोकना चाहती है। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता एलआईसी का आईपीओ अगले कुछ महीनों में आने वाला है।

Chinese investors से देश को हो सकता है खतरा

आईपीओ में सरकार चीनी इन्वेस्टर्स के अलावा सभी विदेशी इन्वेस्टर्स को मंजूरी देने पर विचार कर रही है। जैसा की आप जानते हैं एलआईसी देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है जिसके पास 500 अरब डॉलर से अधिक की संपत्ति के साथ भारत के लाइफ इंश्‍योरेंस मार्केट के 60% से अधिक हिस्‍से में इसकी हिस्‍सेदारी है। एलआईसी के आईपीओ की संभावित साइज 12.2 अरब डॉलर है और यह देश का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ हो सकता है।

यह भी पढ़ें :काल डिटेल से लगा सुराग, मिलने के बहाने से हुई लखनऊ के स्पोर्ट्स कालेज के छात्र की हत्या

इस कड़ी में एक अधिकारी के बयान के मुताबिक, “सीमा पर चीन के साथ संघर्ष के बाद हालात बदल गए हैं। आपसी विश्‍वास की में काफी कमी आई है और इसके साथ पहले की तरह व्यापार नहीं हो सकता है। इसके अलावा LIC जैसी कंपनी में चीनी निवेश खतरा बढ़ा सकता है।”

यह भी पढ़ें : फिल्मों की इमेज को बदलेगी फिल्म “भाभी मां” रानी चटर्जी भाभी माँ के रूप में आएंगी नज़र

Related Articles