राज्यसभा में मोदी सरकार को होना पड़ा शर्मसार

0

दिल्ली – राज्यसभा में तब कोरम का अभाव हुआ जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार को राज्यसभा में शुक्रवार को उस समय थोड़ी शर्मिदगी उठानी पड़ी, जब उसने एक विधेयक को पारित करने के लिए सदन में पेश किया, लेकिन सरकार उसके लिए आवश्यक कोरम नहीं जुटा पाई। केंद्रीय जहाजरानी राज्यमंत्री मनसुख लाल मंडाविया ने नौवहन (समुद्री न्याय क्षेत्र एवं निपटान दावे) विधेयक, 2017 लगभग शाम पांच बजे पारित कराने के लिए पेश किया। लेकिन यह सप्ताहांत की शाम का समय था। कुछ विपक्षी सदस्यों के साथ सत्तारूढ़ राजग के 20 से कम सदस्य सदन में मौजूद थे।

 

सदन में 25 में से 23 सदस्य रहे  मौजूद

सदन में राजग सदस्यों की संख्या 70 से अधिक है।
विधेयक पेश किए जाने पर कांग्रेस सदस्य जयराम रमेश ने इशारा किया कि सदन के पास निर्दिष्ट संख्या नहीं है। उपसभापति पी. जे. कुरियन ने कोरम बेल को करीब तीन मिनट से ज्यादा समय तक बजाया, लेकिन अंत तक 25 की संख्या में सदस्य नहीं पहुंचे।
सिर्फ 23 सदस्य सदन में मौजूद रहे, जो निर्दिष्ट संख्या से दो कम थे। कुरियन ने अंतत: सदन को दिन भर के लिए स्थगित कर दिया।

 

loading...
शेयर करें