18 जुलाई से 10 अगस्‍त के बीच कभी भी गिर सकती है मोदी सरकार!

मोदी सरकारनई दिल्‍ली। संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई से शुरू होने वाला है। यह सत्र 10 अगस्‍त तक चलेगा। इस बार का यह सत्र काफी हंगामेदार रहने की पूरी संभावना हैं। वहीं दूसरी तरफ कभी मोदी सरकार की सहयोगी रही टीडीपी अब केंद्र सरकार को गिराने की तैयारी में दिख रही है। दरअसल खबरों के मुताबिक, टीडीपी एक बार फिर इस मानसून सत्र में एनडीए सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाने वाली है।

वहीं दूसरी तरफ पार्टी के सांसदों को इसके लिए पर्याप्त समर्थन जुटाने का निर्देश दिया गया है। टीडीपी प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की अध्यक्षता में पार्टी सांसदों की विजयवाड़ा में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। दिचलस्प है कि नायडू ने अपने सांसदों और नेताओं को बीजेपी और कांग्रेस के अलावा अन्य सभी दलों का समर्थन पाने का प्रयास करने को कहा है।

आंध्र के सीएम इसके लिए खुद विपक्षी दलों के नेताओं को फोन कर इस मसले (मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव) पर समर्थन मांगेंगे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि संसद में न्याय न मिलने की स्थिति में टीडीपी संसद का सत्र खत्म होने के बाद कानूनी लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने हाल में संपन्न उपचुनावों में बीजेपी को मिली हार का भी उल्लेख किया।

नायडू ने कहा कि उपचुनावों में हार मिलने से बीजेपी कमजोर हुई है और सहयोगी दलों के समर्थन पर निर्भर हो गई है। बता दें कि आंध्र के सीएम चंद्रबाबू नायडू प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं। मोदी सरकार द्वारा इस पर अमल न करने पर टीडीपी एनडीए और सरकार से नाता तोड़ लिया था।

दूसरी तरफ, आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न मिलने पर विरोध स्वरूप राज्य की विपक्षी पार्टी वाईएसआर कांग्रेस के सभी सांसदों ने सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया था।

Related Articles