जम्मू-कश्मीर में इस साल बड़ी संख्या में आतंकियों का हुआ सफाया, जानें इस विषय में मोदी ने क्या कह

0

नई दिल्ली। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को आतंकवादियों से मुकाबला करने की उनकी भूमिका के लिए देश के पुलिस बलों, विशेष रूप से जम्मू और कश्मीर पुलिस की वीरता की सराहना की। प्रधानमंत्री ने यह सराहना उसी दिन की है, जब सेना, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों और राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) के संयुक्त दल द्वारा छह कश्मीरी आतंकवादियों को मार गिराया गया।

मारे गए आतंकवादी अलकायद से संबंधित जाकिक मूसा समूह के थे। जाकिर मूसा का सहयोगी सोलीहा उर्फ रेहान खान को सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिलने पर अरामपोरा गांव के पास त्राल इलाके में मुठभेड़ में मार गिराया। मोदी ने गुजरात के केवडिया में पुलिस महानिदेशक और पुलिस महानिरीक्षक के सम्मेलन में सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें ‘जम्मू और कश्मीर में पुलिस बल पर आतंकवादियों से मुकाबला करने में उनकी भूमिका के लिए गर्व है।

एक अनुमान के अनुसार, पिछले एक दशक में मुठभेड़ में सबसे अधिक संख्या में लोग मारे गए। अनुमान है कि करीब 413 व्यक्ति मारे गए, जिसमें 237 आतंकवादी, 94 नागरिक और 81 सशस्त्र बल के जवान शामिल हैं।इन 237 आतंकवादियों में से 163 इस साल जून के बाद से मारे गए, जब राज्य में गवर्नर शासन लागू किया गया था।पिछले हफ्ते भी राज्य के श्रीनगर के बाहरी इलाके में सुरक्षा अधिकारियों द्वारा दो नाबालिगों सहित तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया था।

loading...
शेयर करें