कांग्रेस के उपर मोदी का हमला, कहा- वोट के लिए कांग्रेस ने देश को बांटा

कर्नाटक: लोकसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी लगातार चुनावी रैलियां कर रहे हैं। इसी कड़ी में वे मंगलवार को महाराष्ट्र के लातूर में चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद कर्नाटक के चित्रदूर्ग पहुंचे। यहां उन्होंने अलग-अलग मुद्दों को लेकर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। साथ ही एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक पर सबूत मांगने के लिए निशाना भी साधा।

मोदी ने कहा कि राज्य में मजबूर सरकार है। सत्ता में आने के लिए लिंगायत समुदाय को बांटने की कोशिश हुई। कांग्रेस ने वोट के लिए देश को बांटा है। इस चुनाव में आपको सिर्फ सांसद नहीं चुनना है, सिर्फ प्रधानमंत्री नहीं चुनना है, बल्कि एक मजबूत भारत के लिए मज़बूत सरकार चुननी है। मजबूत सरकार ही देशहित में बड़े फैसले ले सकती है। कर्नाटक की सरकार कौन चला रहा है, ये किसी को अंदाजा नहीं है, क्योंकि दोनों हारे हुए दल सिर्फ सत्ता के लिए, स्वार्थ के लिए साथ आए हैं, इसलिए एक दूसरे को संभालने में ही लगे हुए हैं।

मोदी विपक्ष पर निशाना साधते हुए बोले कि, जब हमने मिशन शक्ति पूरा किया तो उन्होंने इसके भी सबूत मांगे वैसे ही जैसे एयर स्टाइक के मांगे थे। लेकिन इनकी ताकत नहीं थी कि जब सत्ता में थे तो इस मिशन को मंजूरी देते। ये लोग ना तो सेना का सम्मान करते हैं ना विज्ञान का। जब हमने आतंकियों पर हमला किया तो पाकिस्तान और कांग्रेस के अलावा उनके साथी भी रो रहे थे।

इससे प्रधानमंत्री मोदी ने लातूर रैली में कहा, छत्रपति शिवाजी महाराज जैसे महाराष्ट्र की धरती के शूरवीरों ने जिस प्रकार से स्वाभिमानी और शक्तिशाली राष्ट्र की कल्पना की थी, आज उसी रास्ते पर भारत चल पढ़ा है। राष्ट्रवाद हमारी प्रेरणा है। अंत्योदय हमारा दर्शन है और सुशासन हमारा मंत्र है। इसी भावना पर नए भारत के निर्माण के लिए हम देश के हर नागरिक की भागीदारी चाहते हैं।

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि, आतंकवादियों के अड्डे पर घुस कर मारेंगे ये नये भारत की नीति है। आतंक को हराकर ही हम दम लेंगे ये हमारा संकल्प है। जम्मू कश्मीर में राष्ट्रवादियों के मन में हमने नया विश्वास जगाया है। नक्सलियों और माओवादियों से मुक्त भारत हमारा संकल्प है। हमारे 5 वर्ष की सबसे बड़ी कमाई है, विश्वास। जो हुआ उसके लिए भी आपका ये चौकीदार याद आता है और जो होना चाहिए उसकी भी जिम्मेदारी मेरी ही हिस्से में है।

कांग्रेस के घोषणा पत्र का जिक्र करते हुए मोदी बोले, कांग्रेस कह रही है कि हिंसा वाले इलाकों में सैनिकों को मिले विशेष अधिकार को वो वापस ले लेंगे।पाकिस्तान भी तो यही चाहता है। कांग्रेस कह रही है कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 कभी नहीं हटाई जाएगी। जो बात कांग्रेस का ढकोसला पत्र कह रहा है, वही बात पाकिस्तान भी कह रहा है।

मोदी आगे बोले, कांग्रेस वाले कह रहे हैं कि हम देशद्रोह का कानून हटाएंगे, अरे मैं कहता हूं कि पहले दर्पण में जाकर अपना मुहं देखो। आप कांग्रेस वाले ही थे जिन्होंने बालासाहेब ठाकरे जी का नागरित्व छीन लिया था, उनका मतदान करने का अधिकार छीन लिया था। कांग्रेस वाले कह रहे हैं कि हम देशद्रोह का कानून हटाएंगे, अरे मैं कहता हूं कि पहले दर्पण में जाकर अपना मुंह देखो। आप कांग्रेस वाले ही थे जिन्होंने बालासाहेब ठाकरे का नागरित्व छीन लिया था, उनका मतदान करने का अधिकार छीन लिया था।

पीएम मोदी ने कहा, जम्मू कश्मीर में 2 प्रधानमंत्री की बात करने वाले लोग क्या जम्मू-कश्मीर के हालात सुधार पाएंगे? इनकी सच्चाई देश के हर व्यक्ति को समझनी चाहिए। अपने वोट बैंक और अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए इन लोगों ने देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है। कांग्रेस के लोग कहते हैं कि भारत ने पाकिस्तान का कोई विमान नहीं मारा। कांग्रेस को देश की सेना से कितने सबूत चाहिए? जिनको सरकार पर भरोसा नहीं है, अपने वीर जवानों पर भरोसा नहीं है, तो ऐसे लोगों को कड़ी से कड़ी सजा देना जरूरी है।

मोदी ने भाजपा के घोषणा पत्र का जिक्र करते हुए कहा कि, 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो, ये हमारा संकल्प है और इस संकल्प को पूरा करने के लिए हमने 22 फसलों का एमएसपी लागत का डेढ़ गुना तय किया है। खेती के लिए पैसे की दिक्कत कम हो, इसके लिए आपको क्रेडिट कार्ड पर बिना किसी ब्याज के 1 लाख रुपये तक मिल पाएंगे। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के जरिए अभी 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के खातों में आज सीधे पैसे जमा हो रहे हैं। 2022 तक हर बेघर को पक्का घर देना हमारा संकल्प है। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत हमारी सरकार ने 50 करोड़ गरीबों के लिए हर वर्ष मुफ्त इलाज का प्रबंध किया है।

 

Related Articles