IPL
IPL

Monsoon : इस साल भी जमकर बरसेंगें मेघ, औसत से ज़्यादा बारिश की है उम्मीद

नई दिल्ली : फार्म बिल पर सरकार से नाराज़ चल रहे किसानों के लिए अच्छी खबर। जानकारों की माने तो इस साल जून से शुरू होने वाले Monsoon के औसत से बेहतर रहने की उम्मीद है। मौसम की सटीक जानकारी देने वाले स्काईमेट वेदर सर्विसेज की माने तो इस साल भारत में  जून से सितंबर के बीच ज़बरदस्त बारिश होने के आसार है।

Monsoon में 800 मिलीमीटर बारिश होती है 

पूरे भारत में चार महीनों के दौरान औसतन 800  मिलीमीटर से ज़्यादा बारिश होती है, जिसे टेक्निकल ज़बान में लॉन्ग पीरियड एवरेज कहते हैं। इसी कड़ी में हाल ही में जारी स्काईमेट की रिपोर्ट के अनुसार इस साल औसत से सौ मिलीमीटर ज़्यादा बारिश होगी। स्काईमेट को इस मानसून 103% बारिश की उम्मीद है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की 2020 में यह आंकड़ा 109% और  2019 में 110% के करीब रहा था।

रिपोर्ट के मुताबिक इस साल जून में 177 मिलीमीटर बारिश होगी , जबकि जुलाई में 277, अगस्त में 258 और सितम्बर में 197 मिलीमीटर बारिश के होने की उम्मीद है। खास बात यह है कि पिछले साल जिन इलाकों में कम बारिश हुई थी, वहां इस साल उम्दा बारिश के होने की उम्मीद है। रिपोर्ट के मुताबिक सितंबर में मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में अच्छी बारिश होने की संभावना है। पिछले साल की तरह इस साल भी मुंबई में बारिश जून के पहले हफ्ते से शुरू हो जाएगी । जानकारों की माने तो मौसम फोरकास्टिंग प्राकृतिक आपदाओं जैसे भारी बारिश, हीट वेव , शीतलहर से फसलों को बचाने की तैयारी में काफी मददगार साबित होती है। इसके अलावा सेंटर व राज्य सरकारों को सूखे और बाढ़ जैसे मामले में किसानों से जुड़ी योजना को तैयार करने में इस से काफी मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें : Free trade : क्या इस समिट से सुलझेगा पिछले आठ साल से अटका मसला ?

Related Articles

Back to top button