Monsoon Session: विपक्ष के हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही 2 अगस्त तक स्थगित

वहीं, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, हम पहले दिन से ही 'पेगासस' मुद्दे पर चर्चा की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार का ऐसा करने का इरादा ही नहीं है।

नई दिल्ली: संसद के मानसून सत्र (Monsoon Session 2021) का आज नौवां दिन था। संसद में हंगामे की स्थिति बनी रही, जिसके कारण लोकसभा की कार्यवाही 2 अगस्त सुबह 11 बजे तक स्थगित हो गई।

पेगासस मुद्दे पर विपक्ष के विरोध प्रदर्शन और हंगामे को लेकर मंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा में कहा, लोगों से जुड़े बहुत सारे मुद्दे हैं जिन पर चर्चा की जरूरत है। सरकार बिना चर्चा के विधेयकों को पारित नहीं करना चाहती, हम चर्चा के लिए तैयार हैं लेकिन वे (विपक्ष) ऐसाी करने नहीं दे रहा है।

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, 315 से अधिक सदस्य प्रश्नकाल चाहते हैं। इसके बावजूद इस तरह का व्यवहार करना ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण है। आईटी मंत्री ने दोनों सदनों में विस्तृत बयान दिया है। यह पूरी तरह से गैर-गंभीर मुद्दा है, कृपया सदन को चलने दें।

वहीं, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, हम पहले दिन से ही ‘पेगासस’ मुद्दे पर चर्चा की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार का ऐसा करने का इरादा ही नहीं है। हम चर्चा चाहते हैं, हालांकि स्पीकर ने उन्हें आगे बोलने की अनुमति नहीं दी।

हंगामे के बीच ही प्रश्नकाल चलाया गया और मंत्रियों ने अनेक सदस्यों के पूरक प्रश्नों के उत्तर दिए। इस दौरान आयुष-64 के मुद्दे पर मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, यह सबसे महत्वपूर्ण दवाओं में से एक है जो मानव जीवन की रक्षा कर सकती है, जो वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है। महामारी के दौरान भी, यह हल्के, मध्यम मामलों में प्रभावी साबित हुई है।

यह भी पढ़ें:प्राइवेट हेलीकॉप्टर से अपना Holiday मनाकर लौटे Virat और Anushka, देखें तस्वीरे

Related Articles