मानसून सत्र: केन्द्रीय मंत्रिमंडल में हो सकता है फेरबदल

दिल्ली: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में पहली बार मंत्रिमंडल विस्तार होने की संभावनाए बन रही हैं। भाजापा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी जल्द ही अपनी नई टीम की घोषणा कर सकते हैं।

संभावना है की इसके ठीक बाद ही मंत्रिमंडल मे भी कुछ परिवर्तन किए जाएंगे। ये दोनों ही काम मानसून सत्र शुरू होने के पहले ही किए जाने की संभावना है। मानसून सत्र सितंबर के पहकले ही हफ्ते मे शुरू होने वाला है ऐसे मे इसके पहले ही सारे परिवर्तन किए जाने की संभावना है।

एक महीने पहले ही तैयार हो गई थी टीम की लिस्ट

अटकलें लगाई जा रही हैं कि एक महीने पहले ही  भाजपा केंद्रीय संगठन की नई टीम की लिस्ट तैयार कर ली गई थी।साथ ही इस नई टीम मे मंत्रिमंडल से कुछ नए चेहरों को जोड़ने की तैयारी भी थी । माना जा रहा है कि कैबिनेट से कुछ चेहरों को हटाकर संगठन में भेजने और उनकी जगह नए चेहरों को जगह देने की तैयारी थी। लेकिन मामला आपसी असहमतियों की वजह से अटका हुआ था। लेकिन अब जब की मंथन पूरा हो चुका है तो पार्टी हाईकमान के किसी नतीजे पर पहुचने की संभावना जताई जा रही है।

सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय संगठन पर नतीजा तय होने के बाद अब मंत्रिमंडल विस्तार पर गहन विचार चल रहा है । और पार्टी इसे मानसून सत्र के पहले ही पूरा कर लेना चाहती है।

गृह मंत्री लौटेंगे सियासी मैदान में

अगले हफ्ते बुधवार को सत्र का कार्यक्रम तय किया जाएगा। इससे पहले मंत्रिमंडल के विस्तार पर किसी नतीजे पर पहुचने की संभावना है ।गृह मंत्री अमित शाह भी अब ठीक हो चुके हैं।उनकी कोरोना रिपोर्ट भी निगेटिव आ गई है। ऐसे में प्रक्रिया तेज होने की संभावना भी जताई जा रही है।

देवेन्द्र फड़नवीस को बिहार चुनाव की कमान

इस बीच भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस को बिहार चुनाव की जिम्मेदारी सौंपने का फैसला लिया है। जिसकी आधिकारिक घोषणा जल्द ही की जाने की संभावना है। जिससे यह भी स्पष्ट है की बिहार चुनाव सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर लड़ा जाने वाला है। वैसे भी बिहार में भाजपा और जदयू के पास मुद्दों का भारी अकाल है।

Related Articles