सावन का महीना: शिवलिंग पर जल चढ़ाने से होगी सौभाग्य की प्राप्ति, मिलेगा मनचाहा वर

नई दिल्ली।सावन के महीने कि शुरुआत होते ही शिव भक्तों की भीड़ मंदिर में देखने को मिल रही है। कहते है सावन के महीने में पड़ने वाले सोमवार को उपवास रखने से और हर रोज शिवलिंग पर जल चढ़ाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। सावन का पहला सोमवार 30 जुलाई को है।

वहीं, उत्तराखंड, नेपाल और अन्य पहाड़ी इलाकों में 16 जुलाई से ही सावन शुरू हो चुका है, मान्यता है कि सावन के व्रत रखने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है और कुवांरी लड़कियों को अच्छा वर मिलता है। इस बार के सावन इसीलिए भी खास है क्योंकि 19 साल बाद ऐसा संयोग बन रहा है कि सावन का महीना पूरे 30 दिन तक चलेगा।

चैत्र के पांचवे महीने को सावन का महीना कहा जाता है, सावन के महीने का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है।शिवपुराण के अनुसार, भगवान शिव ने सावन के महीने में माता पार्वती की तपस्या से खुश होकर उन्हें पत्नी के रूप में स्वीकारा था।

सावन के महीने में भगवान शिव अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं, मान्यताओं के अनुसार सावन के महीने में व्रत रखने वाली लड़कियों को भगवान शिव के आशीर्वाद से मनपसंद जीवनसाथी प्राप्त होता है। इस महीने में भगवान शिव का रुद्राभिषेक करने से पद, प्रतिष्ठा, ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।

सावन का महीना शुरू हो चुका है। यह महीना भगवान शिव को बहुत प्रिय होता है। ऐसी मान्यता है सावन के महीने में जो व्यक्ति हर रोज शिवलिंग पर जल चढ़ता है उसकी मनोकामना जल्दी पूरी हो जाती है। शिव जी का एक नाम भोले शंकर भी हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें जो भक्त भक्ति भाव से कुछ भी अर्पित करता है भोले नाथ उन पर प्रसन्न हो जाते हैं।

सावन का महीना इसलिए खास है क्योंकि इस समय खास मंत्रों से शिवलिंग पर जलाभिषेक किया जाता है। ज्योतिष में सावन के महीने में शिव लिंग पर जल चढ़ाने के कई तरह के फायदे है। अलग-अलग शिवलिंग पर जल चढ़ाने के कई लाभ मिलते हैं। ऐसी मान्यता है जो व्यक्ति नियमित रुप से शिवलिंग पर जल चढ़ाता है उसकी कुंडली में अशुभ ग्रहों का प्रभाव कभी नहीं रहता।

सावन के महीने में इसका महत्व और भी बढ़ जाता है। अगर कोई भक्त इस सावन पर पारे का शिवलिंग बनवाकर पूजा करता है और जल चढ़ाता है उसको धन-सम्पदा और मान-सम्मान की प्राप्ति होती है। अपने जीवन से तमाम तरह की परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए नमक से बने शिवलिंग की पूजा करना चाहिए। समस्त कार्यों में सिद्धि प्राप्त करने के लिए मिट्टी से बने शिवलिंग की पूजा करना चाहिए।

Related Articles