ई-लोक अदालत में किया गया 21.45 करोड़ से अधिक के मामलों का निपटारा

ई-सत्र के दौरान कुल 1773 मामलों का समझौते के आधार पर निपटारा किया गया, जिनमें से 1150 मामले अभी अदालत नहीं पहुंचे थे और उनका निपटारा दोनों पक्षों की सहमति से लोक अदालत द्वारा किया गया।

पटना: बिहार की राजधानी पटना में आयोजित राष्ट्रीय ई-लोक अदालत में आज 21 करोड़ 45 लाख 41 हजार 249 रुपये से जुड़े 1773 मामलों का निपटारा किया गया।

कोविड-19 संकट में ऑनलाइन माध्यम से अदालतों में हो रही सुनवाई के दौरान राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकार के निर्देश पर पटना न्यायमंडल में आज 6829 मामलों की सुनवाई की गई, जिनमें 5632 मामले ऐसे थे, जो अभी तक अदालत में नहीं पहुंचे थे, जबकि अदालत में लंबित 1197 मामलों की सुनवाई की गई।

ई-सत्र के दौरान कुल 1773 मामलों का समझौते के आधार पर निपटारा किया गया, जिनमें से 1150 मामले अभी अदालत नहीं पहुंचे थे और उनका निपटारा दोनों पक्षों की सहमति से लोक अदालत द्वारा किया गया। साथ ही 623 ऐसे मामलों का निपटारा किया गया, जो न्यायालय में लंबित थे।

पटना जिला विधिक सेवा प्राधिकार के अध्यक्ष सह जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुनील दत्त मिश्रा की देखरेख में आयोजित इस ई-लोक अदालत में ऑनलाइन सुनवाई की गई। प्राधिकार के सचिव रत्नेश्वर कुमार सिंह ने बताया कि ई-लोक अदालत में एनआई एक्ट, बैंक ऋण, बिजली विभाग, श्रम कानून के अलावा संधि योग्य आपराधिक मामलों की सुनवाई की गई। पटना न्यायमंडल में पटना सदर के अलावा, बाढ़, पटना सिटी, दानापुर, पालीगंज और मसौढ़ी अनुमंडल शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 सीरीज में नहीं खेलेंगे टेलर और फर्ग्युसन

Related Articles