लाल किला हिंसा में 300 से ज़्यादा पुलिस कर्मी घायल, एक्शन में गृहमंत्रालय

गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) के मौके पर ट्रैक्टर परेड के नाम पर किसानो का राजधानी दिल्ली ( Delhi ) में एक अलग ही रूप देखने को मिला।

नई दिल्ली: गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) के मौके पर ट्रैक्टर परेड के नाम पर किसानो का राजधानी दिल्ली ( Delhi ) में एक अलग ही रूप देखने को मिला। किसानो ने लाल किले पर पहुँच कर अपना झंडा फैरा दिया, जहाँ 15 अगस्त को प्रधानमंत्री झंडा फैराते है।

इस बीच किसानो और पुलिस के बीच जमकर भिड़ंत हुई, जिसमे एक किसान की मौत हो गई वही कई किसान और पुलिस कर्मी घायल हो गए, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अब लाल किले पर हुई हिंसा को ग्रह मंत्रालय ने गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधिकारियों को उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। और घायल पुलिस कर्मियों को बेहतर इलाज मुहैया कराने को कहा है। साथ ही हिंसा वाले इलाको में सुरक्षाबलों को बढ़ा दिया गया है।

दिल्ली पुलिस ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है कि हिंसा में 300 से ज़्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए है। और 22 किसानों के खिलाफ ( FIR ) दर्ज किये जा चुके है। आज 2.30 बजे दिल्ली पुलिस प्रेस कॉन्फ्रेंस में हिंसा से जुडी जानकरी देगी।

दिल्ली पुलिस अब जगह-जगह पर लगे CCTV कैमरों की फुटेज देख कर प्रदर्शनकारियों की पहचान करने में जुट गई है। लालकिले, मुकरबा चौक, नांगलोई, सेंट्रल दिल्ली में CCTV कैमरों से फुटेज निकालने के लिए स्पेशल सेल ( Special sale ), क्राइम ब्रांच ( Crime Branch ) की मदद भी ली जा रही है।

यह भी पढ़े: किसान आंदोलन और कश्मीर ( Kashmir ) को लेकर पाकिस्तान ने की टिप्पणी

Related Articles

Back to top button