आर्मेनिया और अजरबैजान की जंग में रूसी राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, 5 हजार लोगों की मौत

पश्चिम एशियाई देश आर्मेनिया और अजरबैजान में चल रहा युद्ध वैश्विक मंच पर चिंता का सबब बन गया है।

नई दिल्लीः पश्चिम एशियाई देश आर्मेनिया और अजरबैजान में चल रहा युद्ध वैश्विक मंच पर चिंता का सबब बन गया है। इसी बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस युद्ध में हजारों लोगों के जान गवाने का दावा किया है।

नागोर्नो-काराबाख इलाके को लेकर आर्मीनिया और अजरबैजान के बीच चल रही जंग पर चर्चा करते हुए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि, इस युद्ध में मौत के आंकड़ा 5 हजार के करीब पहुंच गया है। दोनों देशों की तरफ से दो-दो हजार से भी ज्यादा संख्या में सैनिकों और लोगों ने अपनी जान गंवायी है।

जहां रूसी राष्ट्रपति के इन दावों से अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के कान खड़े हो गए हैं, वहीं आर्मेनिया और अजरबैजान ने इस युद्ध में 874 सैनिकों और 37 आम नागरिकों के मारे जाने की पुष्टि की है।

गौरतलब है कि 27 सितंबर से चल रहे इस युद्ध को जहां रूस और अमेरिका सरीखे देश रोकने की अपील कर रहे हैं, वहीं तुर्की ने अजरबैजान के बुलावे पर इस युद्ध में उतरने का एलान कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि, अगर अजरबैजान हमसे मदद मांगता है, तो तुर्की युद्ध में उतर सकता है। तुर्की के राष्ट्रपति के इस बयान के बाद कई विश्लेषक इस जंग के तीसरे विश्व युद्ध मं तब्दील होने का कयास लगा रहे हैं।

Related Articles