उत्तराखंड के किसान के जीवन पर बनी फिल्म ‘मोती बाग’ हुई ऑस्कर के लिए नॉमिनेट

0

‘मोतीबाग’ की स्क्रीनिंग अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित लॉस एंजलिस शहर में होगी| उत्तराखंड की विषम भौगोलिक परिस्थितियों के बीच पौड़ी गढ़वाल जिला बसा है| जिले के विकास खंड कल्जीखाल स्थित सांगुडा गांव में बुजुर्ग किसान विद्यादत्त शर्मा पिछले 52 वर्षों से पहाड़ की सजीवता को संजोए हुए हैं| गांव के इस बुजुर्ग के जीवन संघर्ष को शोर्ट फिल्म में पिरोया गया है, जिसका नाम ‘मोतीबाग’ है|

फिल्म के निर्माता निर्मल चन्द्र डंडरियाल का कहना है कि विद्यादत्त शर्मा एक किसान हैं। उनकी प्रेरणादायक कहानी के जरिए फिल्म में ये दिखाया गया है कि पलायन की मार झेल रहे पहाड़ों में दृढ़ इच्छा शक्ति से हरियाली कैसे लौटाई जा सकती है। इतना जरूर है कि अब उत्तराखंड की माटी की खुशबू अमेरिका में अपनी महक बिखेरेगी। देखना है कि आगे क्या होता है।

मुख्यमंत्री रावत के मुताबिक ये फिल्म गांव के युवा लोगों को अपने क्षेत्र में रहने के लिए प्रेरणा देगी और उन्हें अपने कल्चर, अपने समुदाय और अपने लोगों के लिए काम करने की प्रेरणा देगी| उन्होंने कहा कि ये फिल्म देश के दूर-दराज क्षेत्रों से माइग्रेशन को कम करने में मदद कर सकती है| रावत ने अपने क्षेत्र के युवा किसानों से भी अपील की कि उन्हें अपने क्षेत्र में माइग्रेशन कम कराने में अहम रोल निभाना चाहिए और उन्हें राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही स्कीमों का ज्यादा से ज्यादा लाभ लेना चाहिए|

loading...
शेयर करें