फिल्म रिव्यू: जज्बाती बातों के बीच युद्ध और रणनीति के हालातों पर सवाल उठाती है फिल्म ‘राज़ी’

फिल्म का नाम : राज़ी

स्टार कास्ट  : आलिया भट्ट, विक्‍की कौशल, जयदीप एहलावत, सोनी राजदान, रजित कपूर, आरिफ जकारिया

डायरेक्टर : मेघना गुलजार

रेटिंग : 3।5 स्‍टार

अविधि : 2 घंटे 18 मिनट

कहानी-
फिल्म की कहानी कश्मीर के रहने वाले हिदायत खान ( रजित कपूर) और उनकी बेगम तेजी (सोनी राजदान) से शुरू होती है, जिनकी बेटी सहमत ( आलिया भट्ट) दिल्ली में पढ़ाई करती है। भारत के जासूसी ट्रेनिंग के हेड खालिद मीर (जयदीप अहलावत ) हिदायत के बड़े अच्छे दोस्त होते हैं। हिदायत का काम खुफिया जानकारियों को सही समय पर देश की सुरक्षा के लिए सही जगह पहुंचाना है। इसी बीच कुछ ऐसा होता है, जिसकी वजह से सहमत की शादी पाकिस्तान के आर्मी अफसर के छोटे बेटे इकबाल सैयद (विक्की कौशल ) से कर दी जाती है

जब सहमत पाकिस्तान पहुंचती है तो कई पाकिस्तानी दस्तावेज और खुफिया जानकारी भारत की सुरक्षा एजेंसियों तक पहुंचाती है। इसी बीच बहुत सारे ट्विस्ट और टर्न्स आते हैं और भारत-पाकिस्तान के बीच हुए 1971 के युद्ध के बारे में बहुत बड़ा खुलासा भी होता है। एक तरफ सहमत पाकिस्तानी परिवार की बहू तो दूसरी तरफ भारत की बेटी होती है। अंततः क्या होता है, यह जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

डायरेक्शन-
बॉलीवुड के मशहूर गीतकार गुलज़ार की बेटी मेघना गुलज़ार की फिल्म ‘राज़ी’ बड़े ही बेहतरीन तरीके से डायरेक्शन किया है। फिल्म की स्क्रिप्ट और सिनेमैटोग्राफी दोनों ऐसी है, जो फिल्म को और भी बेहतर बनाते हैं। फिम को काफी बेहतरीन लोकेशन पर फिल्माया गया है जहाँ भारत-पाकिस्तान की रियल लोकेशन जैसा आपको फील आ सके।

संगीत-
बात करें फिल्म के गानों की तो सारे गानों में देशभक्ति की झलक है। संगीत शंकर-एहसान-लोय की जोड़ी द्वारा गाए गए गाने आपके रौंगटे खड़े कर देगा।

डायलॉग-
फिल्म की स्क्रिप्ट में जबरदस्त डायलॉग भी है। साथ ही वह डायलॉग्‍स मजेदार भी हैं। सहमत कई जगह कोड भाषा में बात करती दिखती है जैसे, ‘छत टपक रही थी, मरम्‍मत कर दी.’ या ‘अगर ये गलत है, तो अपने बेटों को सरहदों पर भेजना भी गलत है..

देखें या नहीं-
फिल्म के नाम की तरह आप भी इस फिल्म को देखने के लिए राज़ी हो जाइए क्योंकि इसमें आपको आलिया की जबरदस्त एक्टिंग देखने को मिलेगी।

Related Articles

Back to top button