मुख्तार अब्बास नकवी ने रामपुर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया उद्घाटन

लखनऊ: मौजूदा स्वास्थ्य परिदृश्य में मेडिकल ऑक्सीजन की बढ़तीमांग के कारण, कई घरेलू कंपनियों ने इस उद्देश्‍य हेतु योगदान करनेके लिए अपनी क्षमता अनुसार अपने प्रयासों को आगे बढ़ाया है। सहायता प्रदान करने केउद्देश्‍य से देश में, भारत में निर्मितविदेशी शराब (आईएमएफएल) के सबसे बड़े निर्माताओं में से एक- रेडिको खेतान ने उत्तरप्रदेश के छह जिलों में विभिन्न स्थानों पर ऑक्सीजन उत्‍पादक संयंत्र स्थापित किएहैं। पहले ऑक्सीजन उत्‍पादक संयंत्रका उद्घाटन अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रामपुर जिले केसामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, बिलासपुर में किया था।

शेष ऑक्सीजन प्लांट आने वाले दिनों में प्रयागराज, कौशांबी, कानपुर, महोबा और चित्रकूट केसरकारी अस्पतालों में स्थापित किए जाएंगे। ऑक्सीजन जेनरेटर की क्षमता 0 से 5.5 बारप्रेशर (समायोज्य) पर 20 एम3/घंटा है। पीएसए (प्रेशर स्विंग एडसॉर्प्‍शन) ऑक्सीजनजेनरेटर प्लांट 90 – 95% की शुद्धता के साथ लगातार ऑक्सीजन उत्‍पादित कर सकते हैं।श्री अमर सिन्‍हा, चीफ ऑपरेटिंग आफिसर (सीओओ), रैडिकोखेतान नेकहा, “भारत में आईएमएफएल के सबसे पुराने औरसबसे बड़े निर्माताओं में से एक होने के नाते, कंपनी महामारी की शुरुआत से ही नागरिकों और जरूरतमंदों कीमदद करने में सबसे आगे रही है।

चूंकि मेडिकल ऑक्सीजन की कमी (जो कि कोविड -19रोगियों के प्रभावी उपचार के लिए महत्वपूर्ण है) प्रमुख चिंताओं में से एक रही है, इसलिए कंपनी ने मई 2021 में उत्‍तर प्रदेश में 6ऑक्सीजन उत्‍पादक संयंत्र स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू की। कोरोनावायरस केखिलाफ लड़ाई में योगदान देने और मदद करने में सक्षम होना वास्‍तव में सम्मान कीबात है। हम लोगों की भलाई के लिए अपनी क्षमतानुसार हर संभव प्रयास करना जारीरखेंगे और जरूरत के समय समाज को अपनी सर्वश्रेष्ठ सहायता प्रदान करेंगे।

ये भी पढ़ें :  पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की तबीयत नाजुक, एसजीपीजीआई ने जारी की मेडिकल बुलेटिन

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles