जम्मू-कश्मीर में DDC चुनाव पर बोले मुख्तार अब्बास नकवी, कहा- ‘जनता कैसे अपनी जिम्मेदारी निभाती है’

श्रीनगर: केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि केन्द्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनाव लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत करने के लिए कराया जा रहा है। इसका मकसद प्रदेश में सकारात्मक विचारों को आगे बढ़ाना और नकारात्मतक माहौल पैदा करने वालों लोगों को अलग-थलग करना है।

केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन (पीएजीडी) ने अपनी बात से पलटी मारते हुए डीडीसी चुनावों में भाग लेने का फैसला किया है। उन्हें एहसास हुआ कि वे अलग-थलग पड़ रहे है और जनता विकास के साथ आगे बढ़ रही है।

उन्होंने कहा कि सबसे पहले DDC चुनावों में कौन कितनी सीटें जीतता या हारता है। यह बिल्कुल भी मायने नहीं रखता है। यह महत्वपूर्ण नहीं है कि चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) कितनी सीट जीतेगा और पीएडीसी कितनी। महत्वपूर्ण यह है कि केन्द्रशासित प्रदेश की जनता लोकतांत्रिक प्रक्रिया में कैसे अपनी जिम्मेदारी निभाती है।

नकवी ने कहा कि जनता ने जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक गतिविधियां शुरू करने के लिए कहा था। प्रदेश में राजनीतिक गतिविधियों को शुरू करने के लिए डीडीसी चुनाव से बेहतर क्या हो सकता है। स्वतंत्रता के बाद जम्मू-कश्मीर में पहली बार इस तरह का चुनाव हो रहा है और लोग बड़े उत्साह के साथ इसमें हिस्सा ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें: देश में लेबर स्ट्राइक ‘सचिव बैंकिग डिवीजन दिल्ली’ को हड़ताल का नोटिस

Related Articles