नगरपालिका की खुली पोल, शहर के इन हिस्सों में फेका जा रहा है खुले में कूड़ा

अब सवाल ये है कि यदि नगर निगम घरों से कूड़ा उठाकर स्वच्छता की मिसाल पेश कर रहा है तो सड़कों पर खुले में पड़े कचरे से होने वाले प्रदूषण को क्यों नजरअंदाज करता जा रहा है।

लखनऊ: केन्द्र सरकार के द्वारा चलाए गए स्वच्छ भारत अभियान लगभग सभी राज्य की सरकारें अपने अपने राज्य में लगू कर चूकी है वहीं उत्तर प्रदेश में स्वच्छ भारत मिशन के अनुसार यूपी सरकार ने घर-घर से कूड़ा उठाने पर जोर दिया।

उसके बाद शहर के हर छोटे-बड़े मोहल्लों और कॉलोनियों के भीतर साफ-सफाई की और स्वच्छता से निकलने वाली एक किरण दिखने लगी। लेकिन, उन्हीं मोहल्लों और कॉलोनियों के बाहर सड़क के किनारे भारी मात्रा में दिखने वाले कचरे ने लखनऊ नगर निगम की पोल खोलकर रख दी।

अब सवाल ये है कि यदि नगर निगम घरों से कूड़ा उठाकर स्वच्छता की मिसाल पेश कर रहा है तो सड़कों पर खुले में पड़े कचरे से होने वाले प्रदूषण को क्यों नजरअंदाज करता जा रहा है।

खुले में पड़े है कूड़े

ये तस्वीरें है इन्दिरा नगर की जहां कुड़े खुलेआम पड़े हैं

kuda

इन तस्वीरों से साफ नजर आ रहा है कि कैसे खुले में कूड़ा फेका जा रहा है। नगर आयुक्त ने कहा था कि खाली प्लाटों में मलबा-कूड़ा, गंदगी का ढेर बना हुआ है। संक्रामक बीमारियों के फैलने का डर बना रहता है। बार-बार सफाई कराने के बाद कुछ दिन में ही स्थिति फिर वैसे ही हो जाती है।

यह भी पढ़े: पुलिस की मिली भगत से परिवहन विभाग को लगाया जा रहा है लाखों का चूना

Related Articles