NDA की दूसरी बार सरकार बनने पर मुसलमानों को डरने की जरूरत नहीं- असदुद्दीन ओवैसी

लोकसभा चुनाव में एनडीए को प्रचंड बहुमत मिलने के बाद पीएम मोदी गुरुवार को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लिया. एनडीए को मिली इस प्रचंड जीत के बाद कहा जा रहा है कि मुसलमान कुछ हाथ तक डरे हुए हैं. इन्हीं मुसलमानों को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM ) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी का एक बयान आया है. उन्होंने देश के मुस्लिमानों से कहा है कि बीजेपी के सत्ता में आने से डरना नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि संविधान सभी नागरिक को धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार देता है.

दरअसल हैदराबाद के मक्का मस्जिद में एक सभा का आयोजन किया था. जिस सभा में उन्होंने यह बयान दिया. उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा कि ‘‘ भारत का कानून, संविधान हमें इस बात की इजाजत देता है कि हम अपने धर्म का पालन करें.’’सभा में मौजूद लोगों को असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि बीजेपी भले ही 300 सीटें जीतकर केंद्र की सत्ता तक पहुंची है. लेकिन हम पीएम मोदी की मनमानी नहीं चलने देंगे. वे देश के गरीब और मजलूम लोगों के लिए लड़ेगें

असदुद्दीन ओवैसी अपने बयान के दौरान बीजेपी पर हमला करते हुए यह भी कहा कि ”बीजेपी ने ईवीएम में नहीं हिंदू दिमाग के साथ हेराफेरी की. इस चुनाव में जात-पात और धर्म अहम मुद्दा अहम साबित हुआ. इसलिए बीजेपी इस चुनाव में कामयाब रही. बीजेपी इस चुनाव को विकास के नाम पर नहीं बल्कि हिंदुत्व के नाम पर लड़कर चुनाव को जीता है. आपको बता दें कि लोकसभा के इस चुनाव में बीजेपी ऐतिहासिक जीत हासिल करते हुए 303 सीटें जीतने में कामायम हुई वहीं एनडीए को 353 सीटें मिली.

Related Articles