म्यांमार में तख्तापलट, देश पर सेना का नियंत्रण

बताया जा रहा कि अब  म्यांमार की सेना देश को एक साल तक अपने हिसाब से चलाएगी।

नई दिल्ली: भारत के पड़ोसी देश म्यांमार ( Myanmar ) से बड़ी खबर आ रही है कि आंग सान सू ( Aung San Suu ) की राष्ट्रपति और सत्तारूढ़ पार्टी के साथ बड़े नेताओं को भी हिरासत में लिया गया है। बताया जा रहा कि अब  म्यांमार की सेना देश को एक साल तक अपने हिसाब से चलाएगी।

म्यामांर मिलिट्री टेलीविजन से पता चला कि सेना तख्तापलट कर दिया है। सरकार और सेना के बीच बढ़ रहे तनाव की वजह से यह कदम उठाया गया।

म्यांमार तख्तापलट अपडेट

म्यांमार की सेना ने आंग सान सू की को हाउस अरेस्ट के तहत हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा कि म्यांमार की राजधानी समेत अन्य जगहों पर भी संचार की सुविधाओं को खत्म कर दिया गया है। फोन और इंटरनेट सर्विस थप चल रही है और आंग सान सू कि पार्टी नेशनल लीग डेमोक्रेसी पार्टी को भी निरस्त कर दिया गया है।

नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी पार्टी ( National League for Democracy Party ) के प्रवक्ता मायो न्यांट ( Mayo Nyant ) ने कहा कि देश में सत्ता पर राज करने वाली पार्टी के सभी वरिष्ठ लोगों को छापेमारी कर हिरासत में ले लिया गया है।

बता दे कि पिछले साल के चुनाव के बाद म्यामांर के सांसद राजधानी नेपीता ( Nepeta ) में संसद के पहले सत्र के लिए एकत्रित होने वाले थे। हालांकि, सेना के बयानों से सैन्य तख्तापलट की आशंका दिख रही थी।

यह भी पढ़ें: Budget Live Update: डेढ़ लाख रोजगार युवाओं के लिए, बीमा कानून 1938 में बदलाव ऐलान

Related Articles

Back to top button