उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा रहस्यमय बुखार, बच्चों के लिए बना काल, सैकड़ों की गई जान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में एक बार फिर काल का साया मंडरा रहा है। मानो जैसे किसी की नजर लग गई हो। कोरोना काल से मचे कोहराम जे बाद एक बार फिर से ‘रहस्यमय बुखार’ ने अबतक 100 से अधिक लोगों की जान ले ली है। राज्य के कई शहरों में पिछले एक सप्ताह से बच्चों में ‘रहस्यमय बुखार’ की बीमारी बढ़ गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जिन जिलों में यह रहस्मयी बीमारी फैली है उनमें- राजधानी लखनऊ, आगरा, मथुरा, मैनपुरी, एटा, कासगंज और फिरोजाबाद शामिल हैं। फिरोजाबाद के कौशल्यानगर में बुखार से सबसे अधिक लोग पीड़ित हैं। यह बीमारी से सबसे बच्चों को शिकार बना रही हैं।

बताया जा रहा है कि इस बीमारी से अब तक 3 वयस्कों की मौत हो चुकी है, जबकि मरने वाले बच्चों की संख्या 50 तक पहुंच चुकी है। बुखार से प्रभावित फिरोजाबाद के अन्य मोहल्ले बिहारीपुरम, किशन नगर, आसफाबाद, जैन नगर, सत्यनगर टापा और सुदामानगर हैं। दो दिन पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुदामानगर का दौरा किया था और अधिकारियों को निर्देश दिया था कि साफ-सफाई का खास ध्यान रखते हुए बीमार लोगों के इलाज की हरसंभव व्यवस्था की जाए।

फिरोजाबाद की वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नीता कुलश्रेष्ठ ने बताया हैं कि अस्पतालों में मरीजो में सबसे ज्यादा बच्चों की मौत बहुत तेजी से हो रही हैम पिछले हफ्ते 32 बच्चों समेत 40 लोगों की मौत हुई है। हालांकि अनधिकारिक आंकड़े 100 से ज्यादा बताई जा रही है।

Related Articles