दिन में सोना अच्छी सेहत के लिए जरूरी

0

Manवाशिंगटन। दिन की नींद आम धारणा में आलस की निशानी समझी जाती है। मगर यह आलस की नहीं, बल्कि अच्छी सेहत की निशानी है। एक रिपोर्ट के अनुसार, दिन की झपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती है। हफिंग्टन पत्रिका की रिपोर्ट में झपकियों से जुड़ी आम धारणाओं का खंडन करते हुए लोगों को इसके लिए प्रेरित किया गया है। वैज्ञानिकों का का कहना है कि दिन में छोटी-छोटी झपकियां सतर्कता ( चौकन्ना) और स्मृति की उत्पादकता में वृद्धि करती हैं। अगर हम सर्तक रहते हैं तो काम में गलती होने की संभावना भी कम रहती है। दिन में थोड़ी देर की झपकी सर्तक ( चौकन्ना) रहने में मदद करती है।

रिपोर्ट के मुताबिक, एक तिहाई अमेरिकी युवक औसतन दिन में झपकियां लेते हैं और इससे उनकी सेहत पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। इसलिए झपकियां केवल आलसी या छोटे बच्चों के लिए ही नहीं है। सामान्य व्यक्ति भी झपकियां लेकर अच्छी सेहत पा सकता है। झपकी लेने के बाद व्यक्ति की नींद अच्छे से खुलती है। उसे किसी तरह की दिक्कत महसूस नहीं होती है। हालांकि शराब पीने के बाद यह झपकी लंबी नींद में बदल सकती है। विशेषज्ञों के अनुसार, झपकी मगर आधे घंटे से ज्यादा लंबी नहीं होनी चाहिए।

रिपोर्ट में यह कहा गया है कि काम करने के दौरान नींद लेना पूरी तरह से जायज है, क्योंकि अच्छी तरह आराम करने के बाद व्यक्ति अधिक फुर्ती से काम कर सकता है, इसलिए कई शीर्ष कंपनियां अपने कर्मचारियों को दोपहर में सोने के लिए ब्रेक देती हैं। इस दौरान सोने के लिए दफ्तर में विशेष कमरे भी होते हैं। झपकी लेने से पहले कॉफी या चाय का सेवन किया जा सकता है। कैफीन का सेवन तीस मिनट बाद अधिक प्रभावशाली माना जाता है। इसलिए झपकी लेने से पहले कॉफी का सेवन जागने के बाद खूब ताजगी का अनुभव कराता है।

loading...
शेयर करें