अब सूर्य तक पहुंचने की तैयारी में है नासा, बना लिया है विशेष अंतरिक्ष विमान

0

नई दिल्ली: बचपन से अभी तक यही  सुनते आएं हैं कि सूर्य एक ऐसे आग के गोले की तरह है कि उसके क्षेत्र मात्र में पहुंचने से कोई भी चीज राख में बदल जाती है। लेकिन अब एक ऐसी खबर  सामने आ रही है जिससे ये सभी बातें मिथ्या लग रही हैं। दरअसल, अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा अब सूर्य पर जाने की तैयारी में हैं। नासा का यह पहला मिशन भी अब पूरी तरह से तैयार है।

मिली जानकारी के अनुसार, सूर्य पर जाने के लिए नासा से पार्कर सोलर प्रोब नाम का एक विशेष यान का निर्माण किया है। नासा का यह विमान कार के आकार का है, जो सूरज की सतह से 40 लाख मील की दूरी से गुजरेगा।

यह पहला मौका है जब कोई विमान सूर्य के इतने करीब से गुजरेगा। इसके पहले किसी भी अंतरिक्षयान ने इतना ताप और इतने प्रकाश का सामना नहीं किया है।यह अंतरिक्ष यान मानव द्वारा अब तक निर्मित किसी भी वस्तु के मुकाबले सूर्य का ज्यादा करीब से अध्ययन करेगा।

अमेरिका में नासा के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के हेलियोफिजिक्स साइंस डिविजन के सहयोगी निदेशक एलेक्स यंग ने कहा कि हम कई दशकों से सूरज का अध्ययन कर रहे हैं और अब आखिरकार हमें पता चलेगा कि हम किस हद तक सफल हुए हैं।

हम आंखों से जिस सूरज को देखते हैं वह उससे कहीं ज्यादा जटिल है। मनुष्य की आंखों को यह भले ही स्थायी, न बदलते हुए एक गोले की तरह नजर आता हो लेकिन सूरज एक गतिशील एवं चुंबकीय ढंग से सक्रिय सितारा है।

पार्कर सोलर प्रोब अपने साथ विभिन्न उपकरणों को लेकर जा रहा है जो सूरज का भीतर से और आसपास या प्रत्यक्ष रूप से अध्ययन करेगा। इन उपकरणों से जुटाए गए डेटा से वैज्ञानिकों को इस सितारे के बारे में बुनियादी सवालों का जवाब देने में मदद मिलेगी।

loading...
शेयर करें