नौसेना प्रमुख कर्मबीर सिंह ने नौसैनिक अड्डे पर पहुंच युद्धक तैयारियों की समीक्षा की

विक्रमादित्य से नौसैनिकों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि नौसेना आने वाले महीनों में भी अपने अभियानों को निर्बाध रूप से जारी रखेगी. बातचीत के दौरान विभिन्न इकाईयों में मरम्मत, रख रखाव, कलपुर्जों की आपूर्ति तथा अन्य साजो सामान से संबंधित विषयों पर व्यापक विचार विमर्श किया.

नयी दिल्ली: नौसेना प्रमुख एडमिरल कर्मबीर सिंह ने आज पश्चिमी नौसेना कमान में कारवार नौसैनिक अड्डे पर नौसेना की संचालन तथा युद्धक तैयारियों की समीक्षा की.

पश्चिमी नौसैनिक कमान के प्रमुख के साथ कारवार नौसेनिक अड्डे पर पहुंचे एडमिरल कर्मबीर सिंह ने अधिकारियों के साथ बातचीत के दौरान विभिन्न इकाईयों में मरम्मत, रख रखाव, कलपुर्जों की आपूर्ति तथा अन्य साजो सामान से संबंधित विषयों पर व्यापक विचार विमर्श किया. उन्होंने कहा कि इन इकाईयों की युद्ध लड़ने की क्षमता को बढाने के लिए इन पहलुओं पर विशेष ध्यान दिये जाने की जरूरत है. उन्होंने साइबर सुरक्षा, आतंकवादी हमलों से रक्षा और अन्य खतरों का उल्लेख करते हुए सभी से पूरी तरह चौकस रहने को कहा.

एडमिरल कर्मबीर सिंह इसके बाद हेलिकॉप्टर में कैरियर बैटल ग्रुप विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य, विध्वंसक, छोटे पोत और अन्य पोतों पर सवार होने के लिए गये. निर्देशित मिसाइल प्रणाली से लैस विध्वंसक पोत आईएनएस चेन्नई पर सवार होने पर उन्हें संचालन तैयारियों की जानकारी दी गयी. इस मौके पर हथियारों की फायरिंग, हवा से हवा में मार करने वाले आपरेशन और पनडुब्बी रोधी अभियानों का भी प्रदर्शन किया गया.

विक्रमादित्य से नौसैनिकों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि नौसेना आने वाले महीनों में भी अपने अभियानों को निर्बाध रूप से जारी रखेगी. उन्होंने कहा कि सैन्य मामलों के विभाग के गठन के बाद तीनों सेनाओं में तालमेल बढा है और हाल के घटनाक्रम में यह सभी ने देखा भी है. नौसेना प्रमुख बाद में नयी दिल्ली के लिए रवाना हो गये.

यह भी पढ़े: जानिए मशहूर सिंगर दर्शन रावल और एक्ट्रेस सुरभि ज्योति का गाना ‘जुदाइयां’ के बारे में

Related Articles

Back to top button