नवाबी जायके अब डिस्काउंट में

0

फ़ूड डिलिवरी एप का जायका

लखनऊ एक नवाबों का शहर है |यहाँ के नवाबी जायके लखनऊ की खूबसूरती में चार चाँद लगातो हैं| अगर नवाबों के शहर आकर नावाबी जायके का लुफ्त नही मजा नही लिया तो बेकार है। यहाँ की नवाबी में खाने खिलने का बहुत पुराना रिवाज है| लखनऊ में हर गली नुक्कड़ में एक अलग जायेका पकता है| यहाँ की गलियों में गिलोरी की मिठास है तो यहाँ के चौराहे पर चकल्ल्स संग चाय की मिठास है| यहाँ के हर शख्स की जुबान पर एक अलग जेके का स्वाद है|  इस शहर की जुबां पर जायके का जिक्र किस तरह ठहरता है, इसका पता अब फूड डिलिवरी ऐप्स चलाने वाली कंपनियां ज्यादा आच्छे से जानती है|

 पहले और अब में क्या आया फ्रक

जहाँ पिछले बरसों तक शहर में महज एक फूड डिलिवरी ऐप सर्विस फूडपान्डा हुआ करता था वहीँ अब  तीन ओर नए डिलीवरी एप आगाएं हैं। सबसे पहले जुमेंटो ने शुरुआत करी थी फिर उबर इट्स ने अपनी पहल की और फिर स्विगी भी डिलूवरी एप की दुनिया में शामिल होगया| दिलचस्पी की बात यह है कि मार्केट में कॉम्पिटिशन और कस्टमर्स को लुभाने के लिए सभी कंपनियां डिस्काउंट ऑफर्स दे रही हैं। अब इतने डिस्काउंट के बाद किसको क और भीड़ के झंझटों में उलझकर जाना पसंद आएगा| डिलीवरी एप नें डिस्काउंट देकर  लखनऊवालों के लिए जायके को और मजेदार बनाया है।

कॉम्पटीशन में कौन आगे

लखनऊ में महज कुछ महीनों पहले एंट्री करने वाले स्विगी फूड डिलिवरी ऐप ने कॉम्पिटीशन को सबसे ज्यादा बढ़ाया है क्योंकि इस ऐप से जानता  20 से 30 रुपये का सामान भी मंगा सकती हैं। हालांकि, 99 रुपये से कम के ऑर्डर के लिए आपको डिलिवरी चार्ज देना होगा और उसके ऊपर के सभी ऑर्डर पर कोई डिलिवरी चार्ज नहीं लगेगा। स्विगी को देखकर ज़ुमेटो  भी कई नए ऑफर लाया है जैसे पहले 5 आर्डर पर 5०% ऑफ, फेस्टिवल ऑफर्स ऐसे कई अन्य ओफरों की शुरुआत करी है लेकिन स्विगी आजभी अपने ओफरों के लिए आज भी पोपुलर है। इन दोनो एप को देखकर उबर ईट्स ने भी ग्राहकों का मन अपने ऑफरों से लुभाने की कोशिश की लेकिन कामयाब न हो पाया। इन फूडिंग एप से ग्राहक छह किलोमीटर दूरी वाले रेस्त्रां से भी बिना कोई एक्स्ट्रा चार्ज दिए फूड ऑर्डर कर सकते हैं। यह डिलीवरी एप अपने फायदे के साथ ग्रहकों का भी फायदा कर रहे हैं।

 

 

loading...
शेयर करें